सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन की जमानत रद्द की

Supreme Court Cancells Bail Plea Of Shahabuddin

नई दिल्ली| अपराधी से नेता बने मोहम्मद शहाबुद्दीन को राजीव रोशन हत्या मामले में मिली जमानत के खिलाफ बिहार सरकार की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है| सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन की जमानत रद्द करते हुए कहा है कि उन्हें जल्द हिरासत में लेकर जेल भेजा जाए| बता दें कि इससे पहले शहाबुद्दीन को पटना हाईकोर्ट ने जमानत दी थी|




इससे पहले पक्ष के वकील ने अदालत से जमानत रद्द नहीं करने की अपील करते हुए कहा था कि 25 फरवरी 2015 को यह मामला दर्ज हुआ था, लेकिन उन्हें अभी तक आरोप पत्र नहीं मिला है, जो कि आपराधिक मामले में अनिवार्य है| शहाबुद्दीन ने वकील ने कहा था कि बिहार सरकार जानबूझकर मामले को लटका रही है| वरिष्ठ अधिवक्ता शेखर नाफाडे ने अदालत से कहा कि शहाबुद्दीन को सीवान से भागलपुर केंद्रीय कारागार स्थानांतरित किया गया, ताकि मामला लटकाया जा सके|

नाफाडे ने कहा, “उनकी तरफ (बिहार सरकार) से जानबूझकर मामले को लटकाया जा रहा है क्योंकि जैसे ही कार्रवाई शुरू होगी, यह मामला टिक नहीं सकेगा| उनके पास मेरे मुवक्किल (शहाबुद्दीन) के खिलाफ कोई सबूत नहीं है|” इसके जबाव में बिहार सरकार के वकील ने अदालत से कहा कि शहाबुद्दीन ने आरोप पत्र का विरोध करते हुए ही आदेश को चुनौती दी थी| अभी इसकी कॉपी नहीं मिलने की बात की जा रही है जो अकल्पनीय है|



नई दिल्ली| अपराधी से नेता बने मोहम्मद शहाबुद्दीन को राजीव रोशन हत्या मामले में मिली जमानत के खिलाफ बिहार सरकार की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है| सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन की जमानत रद्द करते हुए कहा है कि उन्हें जल्द हिरासत में लेकर जेल भेजा जाए| बता दें कि इससे पहले शहाबुद्दीन को पटना हाईकोर्ट ने जमानत दी थी| इससे पहले पक्ष के वकील ने अदालत से जमानत रद्द नहीं करने की अपील करते हुए…