SC: कांग्रेस के वकील दुष्यंत दवे बोले- MP में उपचुनाव तक स्थगित हो फ्लोर टेस्ट

sc
सु्प्रीम कोर्ट: कांग्रेस के वकील दुष्यंत दवे बोले- उपचुनाव तक स्थगित हो फ्लोर टेस्ट

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश में बीते एक पखवारे से चल रहे सियासी घमासाम के बीच कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में फ्लोर टेस्ट को लेकर अजीब दलील दी है। कांग्रेस के वकील ने कहा कि मध्य प्रदेश में फ्लोर टेस्ट विधायकों के इस्तीफे के बाद खाली सीटों पर उप-चुनाव के बाद हो।

Supreme Court Congress Lawyer Dushyant Dave Said Floor Test Should Be Postponed Till By Election :

सुप्रीम कोर्ट में फ्लोर टेस्ट को लेकर शिवराज सिंह चौहान की ओर से दायर याचिका पर कांग्रेस ने कहा कि राज्य विधानसभा में फ्लोर टेस्ट रिक्त सीटों के लिए उपचुनाव तक स्थगित कर दिया जाना चाहिए। कांग्रेस विधायकों की ओर से वरिष्ठ वकील दुष्यंत दवे ने कहा कि अगर इस दौरान तक राज्य में कमलनाथ सरकार रहती है तो आसमान टूट कर गिर नहीं जाएगा। बता दें कि मध्य प्रदेश में तुरंत फ्लोर टेस्ट कराने को लेकर भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने याचिका दायर की है।

इससे पहले बुधवार को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के बेंगलुरु के रामदा होटल में विधायकों से मिलने की कोशिश की गई। इसके बाद होटल में मौजूद 22 विधायकों ने कर्नाटक पुलिस के डीजीपी को पत्र लिखकर कहा है कि उनसे मिलने के लिए किसी कांग्रेसी नेता या सदस्य को अनुमति न दी जाए, ताकि उनकी जिंदगी और सुरक्षा खतरे में न पड़े।

इसके बाद कर्नाटक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि सुरक्षा देने वाले भाजपा नेता कौन होते हैं। यह काम पुलिस का है। डीजीपी से इस बारे में जानकारी दी गई है। अगर रामदा होटल से भाजपा के लोगों को पुलिस नहीं हटाती है, तो हम वहां जाएंगे और उन्हें हटाएंगे।

वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि दिग्विजय सिंह हमारे राज्यसभा उम्मीदवार हैं। वे वहां विधायकों से मिलने गए थे, लेकिन उन्हें सुरक्षा में खतरा बताया गया। वहां 500 पुलिस जवान तैनात होने के बाद भी खतरा बन गए?

 

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश में बीते एक पखवारे से चल रहे सियासी घमासाम के बीच कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में फ्लोर टेस्ट को लेकर अजीब दलील दी है। कांग्रेस के वकील ने कहा कि मध्य प्रदेश में फ्लोर टेस्ट विधायकों के इस्तीफे के बाद खाली सीटों पर उप-चुनाव के बाद हो। सुप्रीम कोर्ट में फ्लोर टेस्ट को लेकर शिवराज सिंह चौहान की ओर से दायर याचिका पर कांग्रेस ने कहा कि राज्य विधानसभा में फ्लोर टेस्ट रिक्त सीटों के लिए उपचुनाव तक स्थगित कर दिया जाना चाहिए। कांग्रेस विधायकों की ओर से वरिष्ठ वकील दुष्यंत दवे ने कहा कि अगर इस दौरान तक राज्य में कमलनाथ सरकार रहती है तो आसमान टूट कर गिर नहीं जाएगा। बता दें कि मध्य प्रदेश में तुरंत फ्लोर टेस्ट कराने को लेकर भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने याचिका दायर की है। इससे पहले बुधवार को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के बेंगलुरु के रामदा होटल में विधायकों से मिलने की कोशिश की गई। इसके बाद होटल में मौजूद 22 विधायकों ने कर्नाटक पुलिस के डीजीपी को पत्र लिखकर कहा है कि उनसे मिलने के लिए किसी कांग्रेसी नेता या सदस्य को अनुमति न दी जाए, ताकि उनकी जिंदगी और सुरक्षा खतरे में न पड़े। इसके बाद कर्नाटक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि सुरक्षा देने वाले भाजपा नेता कौन होते हैं। यह काम पुलिस का है। डीजीपी से इस बारे में जानकारी दी गई है। अगर रामदा होटल से भाजपा के लोगों को पुलिस नहीं हटाती है, तो हम वहां जाएंगे और उन्हें हटाएंगे। वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि दिग्विजय सिंह हमारे राज्यसभा उम्मीदवार हैं। वे वहां विधायकों से मिलने गए थे, लेकिन उन्हें सुरक्षा में खतरा बताया गया। वहां 500 पुलिस जवान तैनात होने के बाद भी खतरा बन गए?