आसाराम की मुश्किलें बढ़ीं, SC का जमानत देने से इंकार

नई दिल्ली। यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद आसाराम की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम को बेल देने से इंकार कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट में आसाराम की ओर से दलील दी गई थी कि उनके केस का ट्रायल बेहद धीमी गति से चल रहा है। इसी को आधार बनाते हुए आसाराम ने कोर्ट से बेल दिए जाने की मांग की थी, जिसे कोर्ट ने इंकार कर दिया। इस मामले की अगली सुनवाई दिवाली के बाद होगी।

हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम की शिकायत पर सरकार से सवाल किया है कि आखिर किस वजह से केस का ट्रायल धीमे चल रहा है? अदालत ने गुजरात सरकार से कहा है, हलफनामा दायर कर केस की प्रगति के बारे में बताएं। मामले की सुनवाई दीवाली के बाद होगी।

{ यह भी पढ़ें:- शुगर का इलाज कराने 'कंबल बाबा' के पास पहुंचे छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री, फोटो वायरल }

ये है मामला-

आसाराम के खिलाफ राजस्‍थान के जोधपुर में एक किशोरी ने यौन हमले की शिकायत दर्ज कराई थी। पीडि़ता उत्‍तर प्रदेश की रहने वाली है। उसकी शिकायत के अनुसार आसाराम ने जोधपुर में मनाई आश्रम में उसे निशाना बनाया। आसाराम को जोधपुर पुलिस ने 31 अगस्‍त 2013 को गिरफ्तार किया था और उसके बाद से वह जेल में ही है।

{ यह भी पढ़ें:- डाक्टर का खुलासा: प्रद्युम्न के शरीर पर नहीं मिले यौन शोषण के सबूत }

जेल में बंद आसाराम के ऊपर 16 साल की लड़की का रेप करने का आरोप लगा है। उसके ऊपर आश्रम में रह रहे दो लड़कों की रहस्‍यमत मौत में शामिल होने का आरोप भी है।