बच्चों की मौत के मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान लेने से किया इंकार

नई दिल्ली। गोरखपुर अस्पताल के बच्चों की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को स्वत: संज्ञान लेने से इंकार कर दिया और याचिकाकर्ता से हाईकोर्ट जाने को कहा। भारत के मुख्य न्यायाधीश (सीजेअाई) ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री स्वयं मामले को देख रहे हैं। हमने टीवी पर उन्हें अस्पताल का दौरा करते देखा है। दरअसल एक महिला वकील राजश्री रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट से इस मामले में संज्ञान लेने की गुहार लगाई थी इस पर व्‍यवस्‍था देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह टिप्‍पणी की।

इससे पहले गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में दो दिनों में 30 बच्‍चों की मौत के बाद हालात का जायजा लेने गए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा करते हुए कहा कि बच्चों की मौत के मामले की गहन जांच कराई जाएगी। उन्‍होंने कांग्रेस समेत विपक्षी दलों के लापरवाही बरतने के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि सरकार की तरफ से इस मामले में कोई लापरवाही नहीं हुई। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस मामले में केंद्र सरकार हमारी हर संभव मदद कर रही है। उन्‍होंने कहा कि इस हादसे की जांच के लिए चीफ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में एक समिति बनाई गई है। रिपोर्ट के आने के बाद दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी. दोषियों को ऐसी सजा मिलेगी जोकि मिसाल बनेगी।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी पुलिस का 'शूटआउट' अभियान जारी, इटावा में कुख्यात अपराधी सुंदर यादव ढेर }