1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से कोविड कंट्रोल करने का मांगा नेशनल प्लान, भेजा नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से कोविड कंट्रोल करने का मांगा नेशनल प्लान, भेजा नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन की आपूर्ति और आवश्यक दवाओं के मुद्दे पर स्वतः संज्ञान लिया है। सीजेआई एसए बोबडे ने कहा कि कि अदालत इस मामले की सुनवाई शुक्रवार को करेगी।सीजेआई एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की तीन-न्यायाधीशों की पीठ ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को कोविड पर एक राष्ट्रीय योजना बनाकर इसे पेश करने या सूचित करने के लिए कहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Supreme Court Seeks Notice From Modi Government To Control Covid Sent Notice

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सुप्रीम कोर्ट ने कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को लेकर स्वतः संज्ञान लिया है। सुनवाई के बाद कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि देश को ऑक्सीजन की सख्त जरूरत है। सुप्रीम कोर्ट ने ऑक्सीजन की आपूर्ति और आवश्यक दवाओं के मुद्दे पर स्वतः संज्ञान लिया है। सीजेआई एसए बोबडे ने कहा कि कि अदालत इस मामले की सुनवाई शुक्रवार को करेगी।

पढ़ें :- CBSE का रिजल्ट 31 जुलाई तक होगा घोषित , केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में बताया रिजल्ट का 'फार्मूला'

सीजेआई एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की तीन-न्यायाधीशों की पीठ ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को कोविड पर एक राष्ट्रीय योजना  बनाकर इसे पेश करने या सूचित करने के लिए कहा है।

इन मुद्दों पर राष्ट्रीय नीति चाहता है सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कोविड-19 संबंधित मुद्दों पर छह अलग-अलग हाईकोर्ट का सुनवाई करना किसी तरह का भ्रम पैदा कर सकता है। सुप्रीम कोर्ट ऑक्सीजन, आवश्यक दवाओं की आपूर्ति और टीकाकरण के तरीकों से जुड़े मुद्दों पर राष्ट्रीय नीति चाहता है।

कोर्ट ने इस मामले में सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे को एमिकस क्यूरी नियुक्त किया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह कोविड-19 वैश्विक महामारी के बीच लॉकडाउन घोषित करने की हाईकोर्ट की न्यायिक शक्ति को भी जांचेगा।

पढ़ें :- रिसर्च : डीआरडीओ की दवा 2-DG कोरोना वायरस के सभी वैरिएंट्स पर कारगर

24 घंटे में कोविड-19 के 3.14 लाख से ज्यादा मरीज

देश में गुरुवार को कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 3.14 लाख से ज्यादा मामले आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,59,30,965 हो गयी है। दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण का यह सर्वाधिक आंकड़ा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,14,835 मामले आए हैं, जबकि 2104 और मरीजों की मौत हो जाने से अब तक इस महामारी की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई है।

लगातार 43 वें दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़ी है। यह 22,91,428 हो गयी है जो कि संक्रमण के कुल मामलों का 14.38 प्रतिशत है। देश में कोविड-19 से ठीक होने की दर 84.46 प्रतिशत हो गयी है। संक्रमण से ठीक हुए लोगों की संख्या 1,34,54,880 हो गयी है। मृत्यु दर 1.16 प्रतिशत हो गयी है।

भारत में कोविड-19 के मामले पिछले साल सात अगस्त को 20 लाख की संख्या पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चले गए थे। वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ से अधिक हो गए थे। इसके बाद 19 अप्रैल को संक्रमितों की संख्या 1.50 करोड़ से ज्यादा हो गयी है।

पढ़ें :- कोरोना वायरस: तेजी से ठीक हो रहे संक्रमित, 24 घंटे में मिले 67 हजार 208 नए केस

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X