1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. सर्वे में हुआ खुलासा: एश्यिा में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचारी भारत में, आंकड़े जानकर हो जायेंगे हैरान

सर्वे में हुआ खुलासा: एश्यिा में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचारी भारत में, आंकड़े जानकर हो जायेंगे हैरान

Survey Revealed Asias Most Corrupt In India Statistics Will Be Shocked

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। भ्रष्टाचारियों को लेकर किये गए सर्वे में एक बड़ा खुलासा हुआ है। इसमें सामने आया कि एश्यिा में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचारी भारत में हैं। ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के एक सर्वे में ये आंकड़ा सामने आया है। इस सर्वे के मुताबिक भारत में घूसखोरी की दर 39 फीसदी है। सर्वे की मानें तो 47 फीसदी लोग मानते हैं कि पिछले 12 महीनों में भ्रष्टाचार बढ़ा है।

पढ़ें :- चीन की घुसपैठ को भारतीय सेना के जवानों ने किया नाकाम, झड़प में चीन के 20 सैनिक घायल

सर्वे के मुताबिक, केवल 47% लोग मानते हैं कि पिछले 12 महीनों में भ्रष्‍टाचार बढ़ा है। 63 फीसदी लोगों की राय है कि सरकार भ्रष्‍टाचार से निपटने में अच्‍छा काम कर रही है। सर्वे के अनुसार, भारत में सरकारी सुविधाओं के लिए 46% लोग निजी कनेक्‍शंस का सहारा लेते हैं। रिपोर्ट कहती है कि रिश्‍वत देने वाले करीब आधे लोगों से घूस मांगी गई थी।

वहीं, निजी कनेक्‍शंस का इस्‍तेमाल करने वालों में से 32% ने कहा कि अगर वे ऐसा नहीं करते तो उनका काम नहीं होता। वहीं, भारत के बाद दूसरे नंबर पर कंबोडिया है, यहां 37 फीसदी लोग रिश्वत देते हैं। इसके बाद भ्रष्टाचार की दर 30 फीसदी होने के साथ इंडोनेशिया तीसरे नंबर पर है। वहीं सबसे कम दर वाले देशों की बात करें तो मालदीव और जापान में भ्रष्टाचार की दर सबसे कम है। इन दोनों देशों में मात्र दो फीसदी लोग ही ऐसा करते हैं।

भ्रष्‍टाचार का खुलासा करने से लगता है डर
भारत में जिन लोगों का सर्वे हुआ, उनमें से पुलिस के संपर्क में आए 42% लोगों ने घूस दी। पहचान पत्र जैसी सरकारी दस्‍तावेज हासिल करने के लिए भी 41% लोगों को घूस देनी पड़ी। निजी कनेक्‍शन का इस्‍तेमाल कर काम निकलवाने के मामले सबसे ज्‍यादा पुलिस (39%), आईडी हासिल करने (42%) और अदालती मामलों (38%) से जुड़े रहे। रिपोर्ट में एक चिंताजनक आंकड़ा यह भी दिया गया है कि भ्रष्‍टाचार की जानकारी देना महत्‍वपूर्ण है लेकिन 63% लोग उसके अंजाम से डरते हैं।

 

पढ़ें :- भारत में कोरोना वैक्सीनेशन की धीमी शुरुआत...चिंता की बात ?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...