1. हिन्दी समाचार
  2. सुशांत सिंह केस: स्टिंग ऑपरेशन मे हुआ एक और बड़ा खुलासा, फोरेंसिक एक्सपर्ट ने कहा…

सुशांत सिंह केस: स्टिंग ऑपरेशन मे हुआ एक और बड़ा खुलासा, फोरेंसिक एक्सपर्ट ने कहा…

Sushant Singh Case Another Big Disclosure In Sting Operation Forensic Expert Said

By आराधना शर्मा 
Updated Date

मुंबई: सुशांत सिंह मौक के अब कई परतें खुल चुकी है लेकिन अभी भी इस केस के अंत तक नहीं पहुंचा जा सका है लेकिन बीते दिन से अब तक इस केस मे कई ऐसे खुलासे हुए हैं जिसे सुनने के बाद कई हर कोई हैरान रह गया।

पढ़ें :- संजय सिंह का आरोप, UP में 39 जिलों के उच्च पदों पर 46 जाति विशेष के अधिकारी तैनात

आपको बता दें इस केस से जुड़ी एक महत्वपूर्ण जानकारी बीते शुक्रवार को भी सामने आई है। देश के एक प्रतिष्ठित न्यूज चैनल ने इस मामले की पड़ताल में एक स्टिंग ऑपरेशन किया है इसमे बता चला कि सुशांत की एक व्यक्तिगत डायरी थी जिसके कुछ पन्ने फटे हुए पाए गए हैं।

पंखा भी नहीं मुड़ा ज्यादा

इसके अलावा जिस पंखे पर सुशांत ने कथित तौर पर खुद को लटकाया था, वह पंखा भी ज्यादा मुड़ा हुआ नहीं था। यह बातें एक फोरेंसिक एक्सपर्ट ने कही हैं। एक खबर के मुताबिक फॉरेंसिक एक्सपर्ट से पूछा जा रहा है कि इस पूरे केस की छानबीन में कोई संदिग्ध चीजें उन्हें मिली हैं? इस पर एक्सपर्ट ने जवाब दिया कि उन्हें एक डायरी मिली है जिसके कुछ पन्ने फटे हुए हैं।

आपको बता दें, पेज पर बीमारी का नाम लिखा हुआ है लेकिन उसके आगे के तीन-चार पन्ने गायब हैं। पता नहीं वह क्या हो सकता है और किसने वह पन्ने फाड़े होंगे ऐसा कुछ भी कहा नहीं जा सकता। लेकिन, यह चीज उन्होंने अपनी फॉरेंसिक रिपोर्ट में लिखी है। इसके अलावा उन्हें कोई खून के धब्बे नहीं मिले हैं और ना ही वह पंखा मुड़ा हुआ मिला है जिस पर सुशांत को लटका हुआ पाया गया।

पढ़ें :- उपचुनाव: कांग्रेस ने यूपी में 2 और मध्यप्रदेश में 9 उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान

डायरी के फटे हुए थे पन्ने

यह फटे हुए पन्नों की डायरी तो सीबीआई के हाथ लग चुकी है और वह इस बारे में सुशांत के करीबी दोस्त सिद्धार्थ पीठानी से पूछताछ भी कर चुके हैं। अपने बयान में सिद्धार्थ ने पहले तो उन्होंने कहा कि उन्हें कोई फटे पन्ने नहीं दिखे लेकिन फिर उन्होंने यह भी कहा कि खुद ही सुशांत अपनी डायरी के पन्ने फाड़ दिया करते थे।

सिद्धार्थ ने बताया कि सुशांत को अपनी डायरी में लिखी हुई कोई बात जब अच्छी नहीं लगती थी तो वह उसके पन्ने फाड़ देते थे। लेकिन अभी तक पंखे के ज्यादा न मुड़े हुए की कोई छानबीन नहीं हुई है।

 

पढ़ें :- 'खाकी' के बाद अब 'खादी' पहनेंगे पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय, जेडीयू में हुए शामिल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...