सुशील मोदी ने बदला बेटे के शादी समारोह का स्थल, सोशल मीडिया पर हुई आलोचना

सुशील मोदी ने बदला बेटे की शादी समारोह स्थल, सोशल मीडिया पर हुई आलोचना

पटना। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने 3 दिसंबर को होने वाली अपनी बेटे उत्कर्ष मोदी की शादी के समारोह स्थल को बदल दिया है। इस बदलाव की वजह स्पष्ट नहीं की गई है, लेकिन सोशल मीडिया पर ऐसी चर्चा है कि दो दिन पूर्व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप द्वारा समारोह में उत्पाद मचाने की धमकी को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया गया है। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर बिहार की सुशासन बाबू सरकार यानी नीतीश कुमार की सरकार की खिंचाई की जा रही है। लोगों का कहना है ​जब सुशासन बाबू की सरकार अपने उप मुख्यमंत्री के बेटे की शादी की सुरक्षा की गारंटी नहीं ले सकती तो बिहार की जनता को सुरक्षा कौन देगा।

Sushil Modi Changed Sons Marriage Venue Social Media Trolls Him :

सुशील मोदी ने अपने बेटे की शादी के लिए पटना के राजेन्द्र नगर स्थित शाखा मैदान को समारोह स्थल के रूप में फाइनल किया था। बेहद अनोखे तरीके से होने जा रही इस शादी को जैसे ही सुर्खियां मिलना शुरू हुई वैसे ही बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने औरंगाबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए धमकी भरे लहजे में समारोह में घुसकर मारपीट करने की धमकी दी थी।

रविवार को खबर आई है कि सुशील मोदी ने समारोह स्थल में बदलाव कर दिया है। नया समारोह स्थल एयरपोर्ट के करीब स्थित वैटनरी कालेज का वहीं ग्राउंड होगा जहां शुक्रवार को केन्द्रीय मंत्री राम कृपाल यादव ने अपने बेटे की शादी रखी थी।

आपको बता दें कि लालू प्रसाद यादव को स्वयं सामने आकर बेटे तेज प्रताप की धमकी पर प्रतिक्रिया जाहिर की गई थी। लालू ने तेज प्रताप को रोकने और सुशील मोदी को समारोह को लेकर निश्चिन्त रहने को कहा था।

समारोह स्थल में बदलाव की बात सामने आने पर तेजप्रताप यादव ने भी ट्वीट कर सुशील मोदी से बिना डरे कार्यक्रम करने को कहा है। उन्होंने सुशील मोदी से समारोह स्थल में बदलाव न करने को भी कहा है।

हालांकि इस पूरे मामले में सुशील मोदी की ओर से कुछ भी ऐसा नहीं कहा गया है जिसके आधार पर यह कहा जा सके कि उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था या तेज प्रताप यादव की धमकी के चलते ऐसा किया है।

पटना। बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने 3 दिसंबर को होने वाली अपनी बेटे उत्कर्ष मोदी की शादी के समारोह स्थल को बदल दिया है। इस बदलाव की वजह स्पष्ट नहीं की गई है, लेकिन सोशल मीडिया पर ऐसी चर्चा है कि दो दिन पूर्व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप द्वारा समारोह में उत्पाद मचाने की धमकी को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया गया है। जिसके बाद से सोशल मीडिया पर बिहार की सुशासन बाबू सरकार यानी नीतीश कुमार की सरकार की खिंचाई की जा रही है। लोगों का कहना है ​जब सुशासन बाबू की सरकार अपने उप मुख्यमंत्री के बेटे की शादी की सुरक्षा की गारंटी नहीं ले सकती तो बिहार की जनता को सुरक्षा कौन देगा।सुशील मोदी ने अपने बेटे की शादी के लिए पटना के राजेन्द्र नगर स्थित शाखा मैदान को समारोह स्थल के रूप में फाइनल किया था। बेहद अनोखे तरीके से होने जा रही इस शादी को जैसे ही सुर्खियां मिलना शुरू हुई वैसे ही बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने औरंगाबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए धमकी भरे लहजे में समारोह में घुसकर मारपीट करने की धमकी दी थी।रविवार को खबर आई है कि सुशील मोदी ने समारोह स्थल में बदलाव कर दिया है। नया समारोह स्थल एयरपोर्ट के करीब स्थित वैटनरी कालेज का वहीं ग्राउंड होगा जहां शुक्रवार को केन्द्रीय मंत्री राम कृपाल यादव ने अपने बेटे की शादी रखी थी।आपको बता दें कि लालू प्रसाद यादव को स्वयं सामने आकर बेटे तेज प्रताप की धमकी पर प्रतिक्रिया जाहिर की गई थी। लालू ने तेज प्रताप को रोकने और सुशील मोदी को समारोह को लेकर निश्चिन्त रहने को कहा था।समारोह स्थल में बदलाव की बात सामने आने पर तेजप्रताप यादव ने भी ट्वीट कर सुशील मोदी से बिना डरे कार्यक्रम करने को कहा है। उन्होंने सुशील मोदी से समारोह स्थल में बदलाव न करने को भी कहा है।हालांकि इस पूरे मामले में सुशील मोदी की ओर से कुछ भी ऐसा नहीं कहा गया है जिसके आधार पर यह कहा जा सके कि उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था या तेज प्रताप यादव की धमकी के चलते ऐसा किया है।