सामने आया सुशील मोदी के बेटे की शादी का मेन्यू

सुशील मोदी ने बदला बेटे की शादी समारोह स्थल, सोशल मीडिया पर हुई आलोचना

पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी 3 दिसंबर को अपने बेटे उत्कर्ष मोदी की शादी करने वाले हैं। इस शादी को खास बनाने के लिए सुशील मोदी ने न तो कार्ड छपवाए हैं और न ही बैंड बाजे की बु​किंग की है। जब ये दो काम ही नहीं हुए तो बारात जाने की बात ही नहीं हो सकती।

खैर बेटा सुशील मोदी का है तो सारे अधिकार उनके ही पास हैं। लेकिन कहा जा रहा है कि सुशील मोदी की योजना के बारे में खबरें सामने आ रहीं हैं कि उन्होंने डिजिटल आमंत्रण भेजे हैं, उनकी यह योजना प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम से प्रभावित है। तो यह विवाह पूरी तरह से दहेज प्रथा विरोधी है, जो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ओर से 2 अक्टूबर को प्रेदश में छेड़े गए दहेज विरोधी अभियान से प्रेरित है। इस शादी में न तो वर पक्ष की ओर से दहेज मांगा गया है और ना ही वधू पक्ष को स्वेक्षा से दहेज देने की छूट मिली है।

{ यह भी पढ़ें:- सुशील मोदी ने बदला बेटे के शादी समारोह का स्थल, सोशल मीडिया पर हुई आलोचना }

यह समारोह का आयोजन स्थल पटना के राजेन्द्र नगर स्थित शाखा मैदान में रखा गया है। नाच गाने और शोर शराबे से दूर इस शादी में कोई ऐसा तामझाम नजर नहीं आएगा जो अक्सर नेताओं के पारिवारिक समारोहों में नजर आता है।

जब मौका शादी का है और न्यौता प्रधानमंत्री तक को गया हो तो उम्मीद की जाती है कि खाने पीने की व्यवस्था तो एकदम चाकचौबंद होगी ही। आखिर सुशील मोदी जैसे कद का नेता अपने बेटे की शादी के सारे खर्चे बचाकर मेहमानों को भोजन तो करवाएंगे ही। लेकिन सुशील मोदी यहां पर भी अपने मेहमानों को खाने के मेन्यू के नाम पर भी गच्चा दे गए हैं। समारोह में शामिल होने वाले लोगों भोज के स्थान पर ​केवल प्रसाद ही दिया जाएगा। जिसे लालू प्रसाद यादव के नाम से प्रभावित बताया जा रहा है। ऐसा बिलकुल भी नहीं है यह मजाक है। दरअसल सुशील मोदी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को भी न्यौता भेजा है।

{ यह भी पढ़ें:- बिना दरवाजा खटखटाये घर में घुसा युवक, पंचायत ने थूक चाटने की सुनाई सजा }

सुशील मोदी को करीब से जानने वाले कहते हैं कि उन्होंने 1986 में अपनी शादी के समय भी मेहमानों को केवल कोल्ड ड्रिंक ही पिलाई थी। उस समारोह को भी बेहद सादे अंदाज में रखा गया था। अगर वह अपने बेटे की शादी में ऐसा कर रहे हैं तो यह कोई आश्चर्य करने वाली बात नहीं है।

आपको बता दें कि सुशील मोदी के बेटे उत्कर्ष पुणे के एक मैनेज्मेंट इंस्टीट्यूट से एमबीए की डिग्री लेकर एक बड़ी कंपनी में कार्यरत हैं। वहीं उनकी होने वाली पत्नी जोकि कोलकाता से आतीं हैं एक चार्टेड अकाउंटेंट हैं।

{ यह भी पढ़ें:- CM नीतीश के उद्घाटन से पहले ही टूट गया करोड़ों का बांध, RJD बोली- नया 'घोटाला' }

Loading...