UN में आज पाकिस्तान को करारा जवाब देंगी सुषमा स्वराज

नई दिल्ली| भारत ने संयुक्त राष्ट्र संघ की नेशनल असेंबली में पाकिस्तान को घेरने की पूरी तैयारी कर ली है| विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज संयुक्त राष्ट्र में भाषण देंगी| सबको उम्मीद है कि सुषमा हाल में पाक पीएम नवाज़ शरीफ़ के कश्मीर राग पर करारा जवाब देंगी| सुषमा के कश्मीर के उरी में सेना के शिविर में 18 सितंबर को हुए आतंकवादी हमले को प्रमुखता से उठाए जाने की उम्मीद है|




सुषमा अपने संबोधन के जरिये पाकिस्तान को एक ‘आतंकवादी देश’ घोषित करने के लिए वैश्विक सहयोग का आह्वान कर सकती हैं| उम्मीद की जा रही है कि सुषमा अपने भाषणा के जरिये उरी हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शनिवार को कोझिकोड में दिए गए पहले सार्वजनिक बयान को आगे बढ़ाएंगी, जिसमें उन्होंने आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान की निंदा करते हुए चेतावनी दी कि पड़ोसी मुल्क को ‘आतंकवादी देश’ के तौर पर अलग-थलग कर दिया जाएगा|

सुषमा से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के संयुक्त राष्ट्र में दिए गए पूर्व के संबोधन का माकूल जवाब दिए जाने की भी उम्मीद है| उम्मीद की जा रही है कि वह संयुक्त राष्ट्र महासभा के ‘प्रत्युत्तर के अधिकार’ के तहत नवाज के भाषण का जवाब देंगी| इस दौरान सुषमा आतंकवाद पर न केवल पाकिस्तान की क़लई खोलेंगी बल्कि आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई का भारतीय फॉर्मूला भी पेश करेंगी। ये फ़ॉर्मूला विज़न डॉक्यूमेंट के रुप में होगा| संयुक्त राष्ट्र के हॉल से आज शाम 7 से 7.30 बजे के बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का भाषण पूरी दुनिया सुनने वाली है| ये सुषमा स्वराज का संयुक्त राष्ट्र में पहला भाषण होगा| इसके पहले इस पोडियम से मोदी, मनमोहन सिंह, ओबामा, पुतिन बोल चुके हैं| उनके भाषण को 193 देश सुनेंगे|

इससे पहले भारतीय राजनयिक ईनम गंभीर ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के भाषण का जवाब देते हुए अपने तीन मिनट के भाषण में कहा था कि पाकिस्तान आतंकवाद को एक नीति के तौर पर इस्तेमाल करने के लिए युद्ध अपराध का दोषी ठहराया जा सकता है| उन्होंने पाकिस्ता को ‘आतंक की पाठशाला’ भी कहा था| गंभीर ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा में सोमवार को सुषमा का संबोधन भी इतना ही स्पष्ट व सख्त होने की संभावना है|