एशिया मैराथन जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष एथलीट बने टी. गोपी

t-gopi

नई दिल्ली। टी. गोपी ने एशिया मैराथन चैम्पियनशिप में रविवार को खिताबी जीत हासिल कर एक नया इतिहास रचा है। गोपी इस मैराथन में स्वर्ण पदक हासिल करने वाले पहले भारतीय पुरुष एथलीट हैं।

T Gopi Became The First Indian Male Athlete To Win Asia Marathon :

केरल के 29 वर्षीय निवासी गोपी ने इस मैराथन को दो घंटे, 15 मिनट और 48 सेकेंड में पूरा कर पुरुष वर्ग में खिताबी जीत हासिल की। उज्बेकिस्तान के पेट्रोव आंद्रे ने दो घंटे 15 मिनट और 51 सेकेंड में इसे पूरा कर दूसरा स्थान हासिल किया।

इस मैराथन के पुरुष वर्ग में कांस्य पदक मंगोलिया के टी. बयामबाजाव के नाम रहा। गोपी से पहले भारतीय महिला एथलीट आशा अग्रवाल (1985) और सुनीता गोदरा (1992) ने एशिया मैराथन में स्वर्ण पदक हासिल किया है।

अपनी अच्छी फॉर्म में चल रहे गोपी ने इस साल नई दिल्ली मैराथन में भी खिताबी जीत हासिल की थी। उन्होंने इस मैराथन को दो घंटे, 15 मिनट और 37 सेकेंड में पूरा किया था।

नई दिल्ली। टी. गोपी ने एशिया मैराथन चैम्पियनशिप में रविवार को खिताबी जीत हासिल कर एक नया इतिहास रचा है। गोपी इस मैराथन में स्वर्ण पदक हासिल करने वाले पहले भारतीय पुरुष एथलीट हैं।केरल के 29 वर्षीय निवासी गोपी ने इस मैराथन को दो घंटे, 15 मिनट और 48 सेकेंड में पूरा कर पुरुष वर्ग में खिताबी जीत हासिल की। उज्बेकिस्तान के पेट्रोव आंद्रे ने दो घंटे 15 मिनट और 51 सेकेंड में इसे पूरा कर दूसरा स्थान हासिल किया।इस मैराथन के पुरुष वर्ग में कांस्य पदक मंगोलिया के टी. बयामबाजाव के नाम रहा। गोपी से पहले भारतीय महिला एथलीट आशा अग्रवाल (1985) और सुनीता गोदरा (1992) ने एशिया मैराथन में स्वर्ण पदक हासिल किया है।अपनी अच्छी फॉर्म में चल रहे गोपी ने इस साल नई दिल्ली मैराथन में भी खिताबी जीत हासिल की थी। उन्होंने इस मैराथन को दो घंटे, 15 मिनट और 37 सेकेंड में पूरा किया था।