किसान खबरें

किसान 22 जुलाई से संसद का करेंगे घेराव, प्रदर्शन अनुशासित व शांतिपूर्ण होगा

किसान 22 जुलाई से संसद का करेंगे घेराव, प्रदर्शन अनुशासित व शांतिपूर्ण होगा

नई दिल्ली। किसान संगठनों की दिल्ली पुलिस के साथ दो बार बैठक हुई। इसके बाद भी कोई नतीजा नहीं ​निकला। इसके बाद किसानों संसद घेराव की घोषणा को वापस नहीं लिया है। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि तय कार्यक्रम के तहत हमारी तैयारी बढ़िया चल रही है। 22 जुलाई

संसद अगर अहंकारी और अड़ियल हो तो देश में जनक्रांति निश्चित : राकेश टिकैत

संसद अगर अहंकारी और अड़ियल हो तो देश में जनक्रांति निश्चित : राकेश टिकैत

नई दिल्ली। देश में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। प्रदर्शनकारी किसानों का कहना है कि वह इस मॉनसून सत्र के दौरान भी संसद के बाहर अपनी आवाज उठाएंगे। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने मंगलवार को कहा कि किसानों का आंदोलन जारी रहेगा।

गाजीपुर बॉर्डर पर किसान और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट, तोड़फोड़, हंगामा और पथराव

गाजीपुर बॉर्डर पर किसान और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट, तोड़फोड़, हंगामा और पथराव

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शन जारी है। बुधवार भाजपा कार्यकर्ताओं और किसानों के बीच गाजीपुर बॉर्डर पर भिडंत हो गई। बताया जा रहा है कि भाजपा कार्यकर्ता नवनियुक्त प्रदेश मंत्री अमित वाल्मीकि का स्‍वागत करने वहां पहुंचे थे लेकिन उसी दौरान बवाल

किसान आंदोलन 2024 तक रहेगा जारी, नए कृषि कानूनों को हटवा कर ही लौटेंगे घर: राकेश टिकैत

किसान आंदोलन 2024 तक रहेगा जारी, नए कृषि कानूनों को हटवा कर ही लौटेंगे घर: राकेश टिकैत

नई दिल्ली। देश में तीनों कृषि कानूनों को लेकर किसानों और केंद्र सरकार के बीच तकरार थमने का नाम नहीं ले रही है। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि उनका आंदोलन वर्ष 2024 तक जारी रहेगा। यह बात शुक्रवार को राकेश टिकैत ने अपने

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए किसानों को 6 महीने पूरे, आज मना रहे ‘काला दिवस’

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए किसानों को 6 महीने पूरे, आज मना रहे ‘काला दिवस’

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ छह महीने पूरे होने पर  26 मई को देशभर में काला दिवस मनाने का आह्वान किया है। महामारी के बीच दिल्ली की सीमाओं पर बड़ी संख्या में किसानों के पहुंचने की संभावना है। ऐसे में

सरकार पर दबाव बनाने के मद्देनजर अब दिल्ली-नोएडा बार्डर जाम करेंगे किसान- राकेश टीकैत

सरकार पर दबाव बनाने के मद्देनजर अब दिल्ली-नोएडा बार्डर जाम करेंगे किसान- राकेश टीकैत

नई दिल्ली। देश में किसान केंद्र सरकार द्वारा लाये गये नये तीन कृषि कानूनों के विरोध में पिछले साल के नवंबर महीने से आंदोलनरत हैं। पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हजारों किसान दिल्ली की तीन सीमाओं – टीकरी, सिंघु और गाजीपुर पर पिछले साल नवंबर से तीन विवादास्पद