Manish Gupta Case News in Hindi

Manish Gupta Case: पांचवा फरार पुलिसकर्मी कमलेश यादव हुआ गिरफ्तार, एक लाख का था इनाम

Manish Gupta Case: पांचवा फरार पुलिसकर्मी कमलेश यादव हुआ गिरफ्तार, एक लाख का था इनाम

Manish Gupta Case: गोरखपुर में हुई कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्या के मामले में फरार पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी जारी है। मामले में फरार चल रहे हेड कांस्टेबल कमलेश यादव (Kamlesh Yadav) को गोरखपुर पुलिस (Gorakhpur Police) ने बुधवार दोपहर एक बजे गिरफ्तार कर लिया। एसआईटी (SIT) कमलेश यादव

Manish Gupta Case: फरार एक लाख के इनामी दो और पुलिसकर्मी गिरफ्तार

Manish Gupta Case: फरार एक लाख के इनामी दो और पुलिसकर्मी गिरफ्तार

Manish Gupta Case: गोरखपुर में कानुपर के कारोबारी मनीष गुप्ता  (Manish Gupta) की पुलिस की पिटाई से मौत हो गयी थी। इस घटना के बाद से आरोपी पुलिसकर्मियों पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित ​हुआ। इंस्पेक्टर और एक दारोगा को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका था। वहीं, अब

Manish Gupta Case: फरार पुलिसकर्मियों पर इनाम राशि बढ़ाकर हुई एक लाख

Manish Gupta Case: फरार पुलिसकर्मियों पर इनाम राशि बढ़ाकर हुई एक लाख

Manish Gupta Case: कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की गोरखपुर में हुई मौत के मामले में फरार चल रहे पुलिसकर्मियों पर इनाम की राशि बढ़ा दी गयी है। फरार पुसिकर्मियों पर पहले 25 हजार रुपये का इनाम घोषित था। वहीं, अब इस इनाम की राशि को बढ़ाकर एक लाख रुपये

Manish Gupta Case: जांच के लिए होटल पहुंची एसआईटी की टीम, जुटाए तथ्य

Manish Gupta Case: जांच के लिए होटल पहुंची एसआईटी की टीम, जुटाए तथ्य

Manish Gupta Case: गोरखपुर में कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता (Manish Gupta) की हत्या के मामले में गठित एसआईटी (SIT) शनिवार को जांच करने पहुंची। गोरखपुर पहुंचने के बाद एसआईटी (SIT) होटल कृष्णा पैलेस पहुंची और मामले की जांच पड़ताल की। टीम अध्यक्ष अपर पुलिस आयुक्त, कानपुर आनंद कुमार तिवारी

Manish Gupta Case: विवादों से इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह का है पुराना नाता, पहले भी हिरासत में मौत का है आरोप

Manish Gupta Case: विवादों से इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह का है पुराना नाता, पहले भी हिरासत में मौत का है आरोप

Manish Gupta Case: कारोबारी मनीष गुप्ता (Manish Gupta) की मौत के बाद चर्चा में आए गोरखपुर के रामगढ़ताल थाने के तत्कालीन इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह (Jagat Narayan Singh) का विवादों से पुराना नाता है। जगह नारायण सिंह (Jagat Narayan Singh) क्षेत्र में ‘नगद नारायण’ के नाम से भी मसहूर हैं।