Retrograde Guru And Retrograde Shani A House News in Hindi

ग्रह गोचर: 14 सितंबर से वक्री गुरु और वक्री शनि एक घर में बिराजमान होंगे, जानिए क्या होगा इस युति का असर

ग्रह गोचर: 14 सितंबर से वक्री गुरु और वक्री शनि एक घर में बिराजमान होंगे, जानिए क्या होगा इस युति का असर

ग्रह गोचर: ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रह निरन्तर गोचर करते हैं। गोचर में ग्रह व्रकी भी होते हैं अर्थात उल्टा चलने लगते हैं। देवगुरु बृहस्पति 14 सितंबर 2021 मंगलवार भाद्रपद शुक्ल अष्टमी तिथि के दिन वक्री गति से चलते हुए मकर राशि में प्रवेश करेंगे। इस राशि में पहले से शनि वक्री