1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. तालिबानी आतंकियों का अफगानिस्तान के शहर वेश पर कब्जा, पाकिस्तान ने अफगान की सीमा को किया सील

तालिबानी आतंकियों का अफगानिस्तान के शहर वेश पर कब्जा, पाकिस्तान ने अफगान की सीमा को किया सील

तालिबानी आतंकवादियों के अफगानिस्तान के सीमावर्ती शहर वेश पर कब्जा कर लिया है। इसके बाद पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगी सीमा को सील कर दिया है। यह जानकारी पाकिस्तानी अखबार डान ने अपनी रिपोर्ट में दी है। अखबार ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई से बात की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

क्वेटा। तालिबानी आतंकवादियों के अफगानिस्तान के सीमावर्ती शहर वेश पर कब्जा कर लिया है। इसके बाद पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगी सीमा को सील कर दिया है। यह जानकारी पाकिस्तानी अखबार डान ने अपनी रिपोर्ट में दी है। अखबार ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई से बात की है। इसके बाद पाकिस्तान द्वारा अफगानिस्तान के मुद्दे पर जल्द आयोजित किये जाने वाले अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल होने का निमंत्रण दिया है।

पढ़ें :- पोस्टर वार में Joe Biden को आतंकी कपड़ों में दिखाया, पूर्व सीनेटर ने बोला- ये बड़ा हमला

अखबार ने सूत्रों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में बताया है कि तालिबानी आतंकवादियों ने मंगलवार को कड़े संघर्ष के बाद वेश शहर पर कब्जा कर लिया है। अफगानिस्तान के सुरक्षा बलों ने हालांकि हेलिकाप्टर का उपयोग कर तालिबानी आतंकवादियों को पराजित करने की कोशिश की।

अखबार ने सूत्रों के हवाले से कहा कि पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा पर बने फ्रेंडशिप गेट को दोनों तरफ से बंद कर दिया गया है, जिससे सीमा पर हर तरह की यातायात और मानव आवाजाही ठप हो गई है। सूत्रों ने कहा कि तालिबानी आतंकवादियों ने अफगानिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज को फ्रेंडशिप गेट और वेश में अन्य स्थानों से हटा दिया है। उसकी जगह तालिबान के निशान को फहराया है।

चमन के एक अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान और अन्य देशों के साथ व्यापारिक गतिविधियों के लिए इस्तेमाल होने वाले तथा अफगानिस्तान के व्यापार के अति महत्व केंद्र वेश मंडी पर तालिबान ने कब्जा कर लिया है। सीमा सील किये जाने के कारण महिलाओं और बच्चों सहित काफी संख्या में अफगानिस्तान के नागरिक चमन में फंसे हुए हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि चमन में इलाज के लिए आए मरीजों सहित लगभग 500 अफगानिस्तान के निवासी अब अपने गृह नगर लौटने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। एक अधिकारी ने बताया कि किसी भी वाहन या व्यक्ति को सीमा पार करने की इजाजत नहीं है।

पढ़ें :- काबुल में TOLO News के रिपोर्टर की तालिबान ने की हत्या , सभी को सुरक्षा का दावा निकला खोखला

इस बीच, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से बुधवार को देर रात अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई से बात की और उन्हें पाकिस्तान द्वारा अफगानिस्तान के मुद्दे पर जल्द ही आयोजित किये जाने वाले अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल होने का निमंत्रण दिया। पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री ने श्री करजई को आश्वस्त किया है कि पाकिस्तान पड़ोसी देश में शांति बहाल करने के लिए हर संभव प्रयास करेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...