डायरेक्टर ने ऐसा क्या कह दिया जो इतना भड़क गयी तमन्ना

मुंबई। अभी हाल में आई तमिल फिल्म ‘काठति सांदाई’ के निर्देशक सूरज अपने विवादित बयान के चलते सुर्खियों में आ गए हैं। फिल्म के प्रमोशन के लिए एक यूट्यूब चैनल में उन्होने कहा कि हम ‘बी’ और ‘सी’ स्टैंडर्ड के आडियन्स के लिए फिल्म बनाते हैं और आडियन्स को खुश करने के लिए हमारी हिरोइनों को छोटे कपड़े पहनने चाहिए।




सूरज ने बताया कि मैं अपने ड्रेस डिजाइनर से साफ-साफ बता देता हूं कि किसी भी हिरोइन की ड्रेस घुठनों से नीचे नहीं जानी चाहिए चाहे वो इसे पहनने से भले ही क्यों न मना कर दे। सूरज ने फिल्म के प्रमोशन के दौरान खुले शब्दों में कहा कि लोग साड़ी में लड़की को देखने के लिए सिनेमा हॉल में पैसे खर्च करने नहीं जाएंगे। सूरज ने ऐसा बयान अपनी फिल्म ‘काठति सांदाई’ की मुख्य अभिनेत्री तमन्ना भाटिया के लिए था।

तमन्ना ने सूरज के बयानों का विरोध करते हुए और अपना गुस्सा जाहिर करते हुए ट्वीट किया है। तमन्ना ने कहा जहां हम एक तरफ 2016 में महिला सशक्तिकरण की बात कर रहे हैं वहीं मेरे निर्देशक ने ऐसी बात कही है जिससे मुझे न सिर्फ दुख हुआ है जबकि बहुत गुस्सा भी दिला रही है। तमन्ना ने ये भी कहा कि मैं यकीनन उनसे मांफ़ी चाहती हूं और मैं चाहती हूं कि वो न सिर्फ मुझसे मांफ़ी मांगे बल्कि पूरी इंडस्ट्री की महिलाओं से माफी मांगे।




तमन्ना ने कहा कि हम एक्ट्रेस हैं हम आडियन्स के मनोरंजन के लिया हैं और लोग हमें वस्तु समझे यह मुझे मंजूर नहीं। उन्होने कहा मुझे फिल्म इंडस्ट्री में काम करते हुए 11 साल हो गए हैं। मैं वही कपड़े पहनती हूं जो मुझे पसंद हो और जिसमे मुझे कम्फर्टेबल लगता हो। हालांकि सूरज ने एक ट्वीट के जरिए अपने इस बयान पर भी माफी मांग ली है।