1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Tauktae Cyclone और पश्चिमी विक्षोभ का इफेक्ट : दिल्ली, यूपी, एमपी समेत इन राज्यों में होगी भारी बारिश

Tauktae Cyclone और पश्चिमी विक्षोभ का इफेक्ट : दिल्ली, यूपी, एमपी समेत इन राज्यों में होगी भारी बारिश

चक्रवाती तूफान ताउते के कारण जहां देश के तटीय इलाकों में भारी बारिश व तेज हवाएं चल रही हैं। वहीं इसका असर अन्य राज्यों में दिखाई दे रहा है। इस तूफान को लेकर राज्‍य सरकारें अलर्ट है। साथ ही उत्तरी पाकिस्तान और उससे सटे इलाकों पर एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Tauktae Cyclone And Western Disturbance Heavy Rains To Occur In These States Including Delhi Up Mp

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान ताउते के कारण जहां देश के तटीय इलाकों में भारी बारिश व तेज हवाएं चल रही हैं। वहीं इसका असर अन्य राज्यों में दिखाई दे रहा है। इस तूफान को लेकर राज्‍य सरकारें अलर्ट है। साथ ही उत्तरी पाकिस्तान और उससे सटे इलाकों पर एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र असम के मध्य भागों में देखा जा सकता है। इन सब का असर उत्‍तर प्रदेश, मध्‍य प्रदेश और राजस्‍थान जैसे राज्‍यों पर भी देखने को मिल रहा है। ताउते के कारण मध्‍य प्रदेश और राजस्‍थान के अधिकांश हिस्‍सों में तेज बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग के अनुसार उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, महाराष्‍ट्र, गोवा और गुजरात के कई स्‍थानों पर बारिश होगी।

पढ़ें :- इस राज्य में भी अब लागू हुआ लव जिहाद कानून, जबरन धर्म परिवर्तन कराया तो 4 से 7 साल की कैद

समाचार एजेंसी स्काईमेट वेदर के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान, बहुत भीषण चक्रवात ताउते के दक्षिण गुजरात तट पर सोमनाथ या अमरेली पर मध्य रात्रि या 18 मई की सुबह लैंडफॉल करने की उम्मीद है। लैंडफॉल के समय हवा की गति 150-160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 170 किमी प्रति घंटे हो सकती है। गुजरात और उत्तरी महाराष्ट्र तट पर कई स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। केरल, कोंकण और गोवा, मध्य प्रदेश के दक्षिण राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। पूर्वोत्तर भारत, लक्षद्वीप, आंतरिक तमिलनाडु और आंतरिक कर्नाटक में कुछ तेज बारिश के साथ हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। पश्चिमी हिमालय, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के अलग-अलग हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

दिल्ली में हो सकती है झमाझम बारिश, आएगी तापमान में गिरावट

मौसम विभाग का अनुमान है कि उत्तर भारत में सक्रिय होने वाले पश्चिमी विक्षोभ का असर सोमवार से दिल्ली के मौसम पर भी दिखाई पड़ेगा। इसके चलते बादलों की आवाजाही लगी रहेगी और शाम के समय गरज-चमक भी हो सकती है। वहीं मंगलवार, बुधवार और गुरुवार के दिन तेज हवा चलने और हल्की बरसात के दौर आने की उम्मीद है। इसके चलते तापमान में खासी गिरावट होगी। यहां तक कि बुधवार और गुरुवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है।

ताउते तूफान और पश्चिमी विक्षोभ से बदलेगा यूपी का मौसम

पढ़ें :- बसपा के बागी विधायकों ने अखिलेश यादव से की मुलाकात, यूपी का सियासी तापमान बढ़ा!

प्रदेश में मौसम का मिजाज एक बार फिर बदलेगा। टाक्टे तूफान के साथ पश्चिमी विक्षोभ के चलते अगले दो-तीन दिन प्रदेश में बादलों की आवाजाही के साथ बौछारें पड़ने की आशंका है। मौसम केंद्र लखनऊ के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि मंगलवार से मौसम का मिजाज फिर बदलेगा। हालांकि, सोमवार को भी लखनऊ में बादलों की आवाजाही रहेगी। वहीं प्रदेश में कुछ स्थानों में बौछारें भी पड़ सकती हैं। उन्होंने बताया कि तूफान के चलते प्रदेश में बदली होने की संभावना है। वहीं, जम्मू कश्मीर पर पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है जिसके चलते 18-19 मई को अलग-अलग स्थानों पर बादलों के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर 20 मई को भी बौछारें पड़ सकती हैं।

उत्तराखंड में फिर बदलेगा मौसम, येलो अलर्ट

मौसम विभाग ने 18 और 19 मई के लिए भारी बारिश और तेज हवाएं चलने का येलो अलर्ट जारी किया है। 17 को एक दिन मौसम शुष्क रहने के बाद फिर मौसम बदलने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार रविवार को उत्तरकाशी, बागेश्वर, चमोली, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग जिलों में हल्की से हल्की बारिश, गर्जना के साथ बारिश, बर्फबारी होने की संभावना है। शेष जगहों में मौसम शुष्क रहेगा। सोमवार को भी पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं- कहीं हल्की बारिश हो सकती है। बाकी जिलों में मौसम पूरी तरह शुष्क रहेगा व अच्छी धूप निकली रहेगी। 18 से एक बार फिर मौसम में तब्दीली आएगी और पर्वतीय जिलों में हल्की से मध्यम व भारी बारिश, बर्फबारी हो सकती है। 19 को उत्तरकाशी, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ जिलों में भारी बारिश व मैदानी क्षेत्रों में भी बारिश की संभावना है। साथ ही तेज झोंकेदार हवाएं चल सकती है। मौसम वैज्ञानिक रोहित थपलियाल के मुताबिक 20 व 21 को भी मौसम खराब ही रहेगा।

मध्‍य प्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर के तटीय इलाकों में सक्रिय चक्रवाती तूफान ताउते के चलते सोमवार से अगले दो दिनों तक मध्य प्रदेश के पश्चिमी भागों में कहीं-कहीं पर गरज के साथ बारिश एवं 45 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल सकती हैं। इसके अलावा, सोमवार से अगले दो दिनों तक मध्य प्रदेश के पूर्वी भागों में कहीं-कहीं पर 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की संभावना है।

पढ़ें :- बड़ी खबर: यहां आज से मिलेगी Sputnik V, जानिए क्या होंगे दाम...

राजस्‍थान के कई इलाकों में होगी बारिश

मौसम विभाग ने तूफान टाक्टे के असर से मंगलवार को राजस्थान के उदयपुर और जोधपुर संभाग के कई जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश होने का अनुमान जताया है। मौसम विभाग ने बताया कि इस चक्रवात का सर्वाधिक असर राजस्थान में 18 और 19 मई को रहेगा और इस दौरान उदयपुर संभाग के एक दो जिलों में 200 मिलीमीटर तक बारिश दर्ज हो सकती है। इस चक्रवात की वजह से एक ओर जहां बारिश में होगी, वहीं तापमान में भी चार से पांच डिग्री सेल्सियस तक गिरावट आ सकती है। इस दौरान गरज के साथ छींटे पड़ने और 50 से 60 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल सकती हैं। 19 मई को इस चक्रवात का असर अजमेर, जयपुर, भरतपुर, कोटा संभाग के जिलो में भी देखने मिलेगा जिससे गरज के साथ कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने का अनुमान है।

ताउते तूफान के चलते राजस्थान के उदयपुर में खासी जनहानि हुई है। आंधी और बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से संभाग में पांच लोगों की मौत हो गई है। इनमें दो बच्चे शामिल हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X