1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Tauktae Cyclone : मुंबई में ताउते ने मचाई तबाही, एयरपोर्ट छह बजे तक बंद

Tauktae Cyclone : मुंबई में ताउते ने मचाई तबाही, एयरपोर्ट छह बजे तक बंद

चक्रवाती तूफान ताउते के कारण मुंबई में 114 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से आंधी चल रही है। स्थानीय निकाय के अधिकारियों ने बताया कि आज दिन भर में यह सबसे तेज आंधी है। बीएमसी की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, दक्षिण मुंबई के कोलाबा इलाके में अफगान चर्च स्थित मौमस विभाग के केंद्र ने दोपहर करीब दो बजे हवा की रफ्तार 114 किलोमीटर प्रतिघंटा दर्ज की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Tauktae Cyclone Tout Caused Havoc In Mumbai Airport Closed Till Six Oclock

मुंबई। चक्रवाती तूफान ताउते के कारण मुंबई में 114 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से आंधी चल रही है। ताउते चक्रवात के चलते मुंबई एयरपोर्ट को बंद रखने की अवधि शाम छह बजे तक के लिए बढ़ा दी गई है। स्थानीय निकाय के अधिकारियों ने बताया कि आज दिन भर में यह सबसे तेज आंधी है। बीएमसी की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, दक्षिण मुंबई के कोलाबा इलाके में अफगान चर्च स्थित मौमस विभाग के केंद्र ने दोपहर करीब दो बजे हवा की रफ्तार 114 किलोमीटर प्रतिघंटा दर्ज की है। बीएमसी ने मुंबई में मौसम निगरानी के लिए 60 स्वचालित (ऑटोमैटिक) मौसम केंद्र बनाए हैं।

पढ़ें :- चक्रवात से निपटने के लिए पीएम मोदी से दीर्घकालिक समाधान की मांग : नवीन पटनायक

बीएमसी प्रवक्ता तानाजी काम्बले ने कहा कि आईएमडी ने अगले कुछ घंटे तक मुम्बई में भारी वर्षा जारी रहने की चेतावनी दी है। बीएमसी के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि तेज हवाओं के मद्देनजर बांद्रा-वर्ली सी-लिंक को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है और लोगों को वैकल्पिक मार्ग का इस्तेमाल करने की सलाह दी गई है।

आईएमडी मुंबई की वरिष्ठ निदेशक शुभांगी भूटे ने बताया किसुबह साढे आठ से 11 बजे तक कोलाबा वेधशाला ने 79.4 मिलीमीटर वर्षा तथा सांताक्रूज वेधशाला ने 44.5 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की। रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि पास के ठाणे जा रही एक ट्रेन पर पेड़ गिर जाने से उपनगरीय घाटकोपर और विखरोली के बीच मध्य रेलवे की उपनगरीय ट्रेन सेवाएं आधे घंटे बाधित रहीं।

सरकारी तेल कंपनी ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) ने  बताया कि अरब सागर में आए चक्रवातीय तूफान ‘ताउते’ के कारण बंबई हाई तेल क्षेत्र में अपतटीय उत्खनन के लिए तैनात उसके बजरे का लंगर हट गया और वह समुद्र में बहने लगा। उस पर 261 लोग सवार थे। कंपनी के आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि बजरे ‘पी305’ पर सवार सभी 261 लोग सुरक्षित थे और बजरे को भी बहने से रोक लिया गया।

गुजरात के अहमदाबाद जिले के कलेक्टर संदीप सागले ने बताया कि धोलेरा से 962 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। यहां कुल 38 शेल्टर हैं। उन्होंने बताया कि शेल्टर में भेजे जाने से पहले सभी लोगों की रैपिड एंटीजेन जांच कराई गई है। शेल्टरों में सभी कोविड दिशानिर्देशों का पालन किया जा रहा है। सागने ने बताया कि अहमदाबाद के छह गांवों में छह ऐसे शेल्टर हैं जिनमें 2400 लोगों को रखने की सुविधा है।

पढ़ें :- Cyclone Tauktae गया नहीं कि अब YAAS तूफान का अलर्ट! खतरे में हैं ये राज्य

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X