1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा: फर्जी प्रमाण पत्र पर नौकरी करने वाले 37 फर्जी शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज

शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा: फर्जी प्रमाण पत्र पर नौकरी करने वाले 37 फर्जी शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज

By शिव मौर्या 
Updated Date

गोरखपुर। गोरखपुर में शिक्षा विभाग में शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़ा उजागर हुआ है। दस्तावेजों में फर्जीवाड़ा करके 37 शिक्षकों ने नौकरी पाई थी। मामला उजागर होने के बाद इन्हें बर्खास्त कर दिया गया था। वहीं, अब राजघाट पुलिस ने इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। बीएसए भूपेंद्र नारायण सिंह की तहरीर पर यह कार्रवाई की गयी है।

इन्होंने बताया कि फर्जी प्रमाण पत्र और पैन कार्ड के जरिए आरोपी शिक्षकों ने नौकरी पायी थी। आरोपितों में 20 गोरखपुर, आठ देवरिया, तीन संतकबीरनगर, तीन बलिया, दो गाजीपुर और एक कुशीनगर के रहने वाले हैं। बीएसए ने तहरीर देकर बताया कि शिकायत मिली थी कि विभाग में तैनात 37 शिक्षक फर्जी प्रमाण पत्रों और दूसरे के नाम पर नौकरी कर रहे हैं।

जांच कराने पर इनके प्रमाण पत्र और पैन कार्ड फर्जी मिले। प्रभारी निरीक्षक राजघाट राजेश पांडेय ने बताया कि फर्जी दस्तावेज तैयार कर जालसाजी करने का मामला दर्ज कर जांच की जा रही है। सूत्रों की माने तो पुलिस इस मामले में कार्रवाई करने से बच रही थी। हालांकि, मामला बढ़ने के बाद इनके खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बीएसए की तहरीर पर मुकदमा दर्जकर लिया है।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी भूपेंद्र नारायण सिंह ने कहा कि शैक्षणिक प्रमाण पत्रों, दूसरे के नाम और पते पर नौकरी करने के अलावा दूसरों के नाम पर जारी किए पैन नंबर के इस्तेमाल की शिकायत पर जांच की गयी थी, जिसमें मामला सही पाया गया था। फर्जीवाड़ा उजागर होने के बाद इन शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की गयी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...