भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी से हटेगा ओप्पो का लोगो, बाईजूस करेगा स्पॉन्सर

e

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी पर सितंबर के बाद से चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ओप्पो की जगह बाईजूस ब्रांड का नाम दिखेगा। बाईजूस बेंगलुरू स्थित एक शैक्षिक ऑनलाइन ट्यूटोरियल फर्म है। भारतीय टीम की जर्सी पर वेस्टइंडीज दौरे तक ओप्पो का लोगो रहेगा।

Team India Team Gets A New Sponser Oppo Takes His Right Back :

वेस्टइंडीज दौरा तीन अगस्त से शुरू होगा और दो सितंबर को समाप्त होगा। दक्षिण अफ्रीका 15 सितंबर से भारत का दौरा करेगी और इस सीरीज के साथ मेजबान टीम की जर्सी पर लगा लोगो भी बदल जाएगा। चीनी स्मार्टफोन निर्माता ओप्पो ने मार्च 2017 में 1079 करोड़ रुपये में पांच साल के लिए भारतीय टीम के प्रायोजक का अधिकार हासिल किया था।

हालांकि कंपनी ने इस सौदे से अपने हाथ खींच लिए हैं क्योंकि उसका मानना है सौदे की कीमत बहुत ही अधिक है और वो इसे जारी नहीं रख सकते। रिपोट्र्स का कहना है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड बीसीसीआई को 31 मार्चए 2022 तक उस सौदे की रकम बाईजूस से मिलती रहेगी और उसे किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा।

ओपो हर मैच के लिए बीसीसीआई को 4.61 करोड़ और आईसीसी टूर्नामेंट के मैच के लिए 1.56 करोड़ का भुगतान कर रही थी। इससे पहलेए स्टार इंडिया हर मैच के लिए बीसीसीआई को 1.92 करोड़ और आईसीसी टूर्नामेंट के मैच के लिए 61 लाख रुपये देती थी।

भारतीय टीम आईसीसी विश्व कप के बाद पहली सीरीज खेलने को तैयार हैण्। भारत और वेस्टइंडीज सीरीज की शुरुआत 3 अगस्त से होगी। पहले भारत टी20 मैच खेलगा जिसमें पहले दो मैच अमेरिका में खेले जाएंगे। ये दोनों मैच फ्लोरिडा के लॉडरहिल में होंगे। इसके बाद तीसरा टी20 मैच गयाना में खेला जाएगा। टी20 सीरीज के बाद वनडे और टेस्ट मैच भी वेस्टइंडीज में ही खेले जाएंगे।

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी पर सितंबर के बाद से चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ओप्पो की जगह बाईजूस ब्रांड का नाम दिखेगा। बाईजूस बेंगलुरू स्थित एक शैक्षिक ऑनलाइन ट्यूटोरियल फर्म है। भारतीय टीम की जर्सी पर वेस्टइंडीज दौरे तक ओप्पो का लोगो रहेगा। वेस्टइंडीज दौरा तीन अगस्त से शुरू होगा और दो सितंबर को समाप्त होगा। दक्षिण अफ्रीका 15 सितंबर से भारत का दौरा करेगी और इस सीरीज के साथ मेजबान टीम की जर्सी पर लगा लोगो भी बदल जाएगा। चीनी स्मार्टफोन निर्माता ओप्पो ने मार्च 2017 में 1079 करोड़ रुपये में पांच साल के लिए भारतीय टीम के प्रायोजक का अधिकार हासिल किया था। हालांकि कंपनी ने इस सौदे से अपने हाथ खींच लिए हैं क्योंकि उसका मानना है सौदे की कीमत बहुत ही अधिक है और वो इसे जारी नहीं रख सकते। रिपोट्र्स का कहना है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड बीसीसीआई को 31 मार्चए 2022 तक उस सौदे की रकम बाईजूस से मिलती रहेगी और उसे किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा। ओपो हर मैच के लिए बीसीसीआई को 4.61 करोड़ और आईसीसी टूर्नामेंट के मैच के लिए 1.56 करोड़ का भुगतान कर रही थी। इससे पहलेए स्टार इंडिया हर मैच के लिए बीसीसीआई को 1.92 करोड़ और आईसीसी टूर्नामेंट के मैच के लिए 61 लाख रुपये देती थी। भारतीय टीम आईसीसी विश्व कप के बाद पहली सीरीज खेलने को तैयार हैण्। भारत और वेस्टइंडीज सीरीज की शुरुआत 3 अगस्त से होगी। पहले भारत टी20 मैच खेलगा जिसमें पहले दो मैच अमेरिका में खेले जाएंगे। ये दोनों मैच फ्लोरिडा के लॉडरहिल में होंगे। इसके बाद तीसरा टी20 मैच गयाना में खेला जाएगा। टी20 सीरीज के बाद वनडे और टेस्ट मैच भी वेस्टइंडीज में ही खेले जाएंगे।