पत्रकार हत्या मामले मे तेजप्रताप को सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट

पत्रकार हत्या मामले , क्लीन चिट , तेजप्रताप , tej pratap
पत्रकार हत्या मामले मे तेजप्रताप को सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट

Tej Pratap Yadav Gets Clean Cheat From Supreme Court In Rajdev Ranjan Murder Case

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव को बड़ी राहत पहुंचाते हुए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार को सर्वोच्च न्यायालय को बताया कि एजेंसी को पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के मामले में तेज प्रताप के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है।

सीबीआई ने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए.एम. खानविलकर और न्यायमृर्ति डी.वाई चंद्रचूड़ की पीठ को बताया कि दो आरोपियों मोहम्मद कैफ और जावेद के खिलाफ जांच चल रही है। सीबीआई ने यह बयान पत्रकार की विधवा आशा रंजन की याचिका पर दिया है। याचिका में बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप के खिलाफ जांच की मांग की गई थी।

अदालत ने याचिका को खारिज करते हुए उन्हें बाद में किसी भी समय तेज प्रताप के खिलाफ कुछ भी मिलने पर पटना उच्च न्यायालय में याचिका दायर करने की अनुमति दी है। राजदेव रंजन की 13 मई 2016 को कार्यालय से लौटते समय सिवान जिले में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

शहाबुद्दीन सहित 7 के खिलाफ आरोप पत्र दायर

बीते साल 22 अगस्त को पत्रकार हत्या मामले में दाखिल आरोप पत्र में मोहम्मद शहाबुद्दीन के अलावे लड्डन मियां उर्फ अजहरुद्दीन बेग, रिशु कुमार जायसवाल, रोहित कुमार सोनी, विजय कुमार गुप्ता, राजेश कुमार और सोनू कुमार गुप्ता के खिलाफ आईपीसी की धारा 120बी और 302 के साथ ही आर्म्स एक्ट तहत विशेष सीबीआई की अदालत में आरोप पत्र दाखिल किया गया है।

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव को बड़ी राहत पहुंचाते हुए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार को सर्वोच्च न्यायालय को बताया कि एजेंसी को पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के मामले में तेज प्रताप के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है। सीबीआई ने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए.एम. खानविलकर और न्यायमृर्ति डी.वाई चंद्रचूड़ की पीठ को बताया कि दो आरोपियों मोहम्मद कैफ और जावेद के खिलाफ जांच चल रही…