लालू प्रसाद के बेटे की दिवाली पर सलाह, ‘पटाखा से अच्छा बैलून फुलाइए और फोड़िए’

पटना। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और बिहार के पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव ने दिवाली पर पटाखे छोड़ने पर अनूठी सलाह दे डाली। तेज प्रताप ने कहा, दिवाली पर पटाखा फोड़ने से अच्छा है, बैलून फुलाइए और उसको फोड़िए। तेजप्रताप ने पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, पटाखे छोड़ने से प्रदूषण फैलता है। हम सभी को पर्यावरण के विषय में सोचना चाहिए।

तेजप्रताप ने कहा, पटाखा फोड़ने से तो प्रदूषण होता है। पटाखा फोड़ने से अच्छा क्या है, जानते हैं? पटाखा फोड़ने से अच्छा है बैलून फुलाइए और उसको फोड़िए। ऐसा करने से प्रदूषण भी नहीं फैलेगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में पटाखों पर प्रतिबंध लगा हुआ है। पटना में भी कम ही स्थानों पर पटाखे बेचे जा रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- बिहार: वॉलीबॉल मैच के बहाने बुलाकर चार युवकों की गोली मारकर हत्या }

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों को यह भी सलाह दी की कि दिवाली के मौके पर भगवान गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा करें, जिससे देश में शांति बनी रहेगी और मन भी शांत रहेगा। उन्होंने लोगों को दिवाली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पर्व पर राजनीति छोड़कर सभी को खुशियां बांटनी चाहिए।

दिल्ली में पटाखा बैन-

{ यह भी पढ़ें:- अनिल अंबानी से भी अमीर है बिहार का यह शख्स }

बता दें कि 9 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट की ओर से पटाखों की बिक्री पर लगाए बैन का जहां कुछ लोगों ने स्वागत किया है, वहीं तमाम लोगों ने इस पर निराशा जताई है। त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय और मशहूर लेखक चेतन भगत ने इस बैन को हिंदू विरोधी करार दिया था। बैन पर पुनर्विचार की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि उन्हें दुख है कि प्रदूषण से जुड़े इस मसले को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की गई।

Loading...