HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. बिहार
  3. तेजस्वी की बहन ने सुशील मोदी को दिया करारा जवाब, ठेठ बिहारी अंदाज में कहीं ये बातें…

तेजस्वी की बहन ने सुशील मोदी को दिया करारा जवाब, ठेठ बिहारी अंदाज में कहीं ये बातें…

बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपने सरकारी आवास को कोविड केयर सेंटर में तब्दील कर दिए हैं। वहीं, अब इसको लेकर बिहार की सियासत गर्म हो गयी है। आरजेडी इसके जरिए नीतीश सरकार पर निशाना साधने में जुटी हुई है। वहीं, विरोधी इसे तेजस्वी की राजनीतिक नौटंकी बता रहे हैं। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व बीजेपी सांसद सुशील कुमार मोदी ने पूछा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के परिवार में दो बहने एमबीबीएस डॉक्टर हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

पटना। बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अपने सरकारी आवास को कोविड केयर सेंटर में तब्दील कर दिए हैं। वहीं, अब इसको लेकर बिहार की सियासत गर्म हो गयी है। आरजेडी इसके जरिए नीतीश सरकार पर निशाना साधने में जुटी हुई है। वहीं, विरोधी इसे तेजस्वी की राजनीतिक नौटंकी बता रहे हैं। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व बीजेपी सांसद सुशील कुमार मोदी ने पूछा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के परिवार में दो बहने एमबीबीएस डॉक्टर हैं।

पढ़ें :- पेपर लीक किया तो अब खैर नहीं, बिहार विधानसभा में एंटी पेपर लीक बिल पास, जानें कितने साल की होगी सजा?

कोरोन संकट के दौरान उनकी सेवाएं क्यों नहीं ली गईं हैं। इस पर आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य भड़क गईं। रोहिणी ने एकदम ठेठ बिहारी अंदाज में कहा कि आकर मुंह ठुर देंगे। सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि, तेजस्वी यादव को सरकारी आवास के बजाय अवैध तरीके से पटना में अर्जित दर्जनों मकानों में से किसी को कोविड अस्पताल बनाना चाहिए था, जहां गरीबों का मुफ्त में इलाज होता।

कांति देवी ने मंत्री बनने के बदले जो दो मंजिला भवन तेजस्वी यादव को गिफ्ट किया था, उसमें या राबड़ी देवी के पास जो 10 फ्लैट बचे हैं, उनमें अस्पताल क्यों नहीं खोला गया? इसके साथ ही सुशील कुमार मोदी ने कहा कि तेजस्वी के परिवार में दो बहने एमबीबीएस डॉक्टर हैं। कोरोना संक्रमण के दौर में उनकी सेवाएं क्यों नहीं ली गईं? यदि राजद नेतृत्व में गरीबों की सेवा के लिए तत्परता और गंभीरता होती, तो अस्पताल शुरू करने के लिए पहले सरकार से अनुमति ली जाती और उसके मानकों का पालन किया जाता।

मोदी ने कहा कि बिना डॉक्टर, उपकरण-स्वास्थ्यकर्मी के किसी परिसर में केवल कुछ बेड लगा देने से अस्पताल नहीं हो जाता। इससे केवल अस्पताल होने का नाटक किया जा सकता है। वहीं, इस रोहिणी ने एकदम ठेठ बिहारी अंदाज में कहा है कि आज के बाद मेरी बहनो पे ई भगोड़ा बोला ना तो बताना मुझे, इसकी बकलोलि ना छुड़ा दिए तब देखना। बुधवार को रोहिणी ने सिलसिलेवार कई ट्वीट कर सुशील मोदी पर हमला बोला।

रोहिणी ने ट्वीट किया, ”ई त ऐकर किस्मत आज अच्छा बांटे, नहीं तो हम उहां रहती त इनका आज अच्छें से इलाज कर देतीं! इ अपन सृजन चोरनी बहन का खूब सेवा लिए और खूब मेवा खाए है, बहुत जल्द ही सेवा का मेवा लाल से हिसाब होगा। इसे साथ ही रोहिणी आचार्य ने आगे लिखा, ”आज के बाद से मेरा या मेरी बहनों का नाम लिया ना ये लीचर तो मुंह थूर देंगे आकर!

पढ़ें :- Budget 2024 Announcements for Bihar: वित्तमंत्री ने बजट में बिहार के लिए ताबड़तोड़ घोषणाएं; जानिए क्या-क्या मिला

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...