1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. टेरर फंडिंग केस: आसिया अंद्राबी पर कसा NIA का शिकंजा, सीज किया घर

टेरर फंडिंग केस: आसिया अंद्राबी पर कसा NIA का शिकंजा, सीज किया घर

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकवादियों का समर्थन करने वाले गुटों को एक और झटका लगा है। राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने कश्‍मीरी अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी के घर को अटैच कर दिया है। प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन दुख्तारन-ए-मिल्लत की मुखिया आसिया अंद्राबी पर आरोप है कि उसने अपने घर का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधि के लिए किया था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने यह भी साफ किया है कि उसने अलगाववादी नेता के घर की तलाशी नहीं ली है।

एनआईए ने बताया कि आसिया अंद्राबी का यह घर आतंकवादी गतिविधियों के लिए किया जाता था और उसे गैर कानूनी गतिविधि रोकथाम कानून के तहत अटैच कर दिया गया है। इससे पहले एनआईए ने इस संबंध में एक मामला दर्ज किया था। बता दें कि पाकिस्तान समर्थक अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी दुख्तरान-ए-मिल्लत की प्रमुख है। एनआईए के मुताबिक मुंबई हमले के गुनहगार हाफिज सईद के साथ भी आसिया अंद्राबी के अच्छे रिश्ते हैं।

एनआईए ने पिछले साल आसिया के बारे में कई सनसनीखेज खुलासे किए थे। एनआईए ने आसिया के संगठन दुख्तरान-ए-मिल्लत के सदस्यों के पास से मिले मोबाइलों की जांच में पाया गया है कि वे लगातार पाकिस्तान के अपने आकाओं के संपर्क में थे और भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल थे। एनआईए ने कोर्ट को बताया कि आरोपी आसिया अंद्राबी, सोफी फहमीदा और नहीदा नसरीन साजिश कर भारत की एकता और अखंडता के खिलाफ गतिविधियों में शामिल थीं।

हाफिज सईद के साथ हैं करीबी रिश्ते

जांच एजेंसी ने बताया कि आसिया अंद्राबी के इस मकान का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए होता था। यही वजह है कि इस घर को गैर-कानूनी गतिविधि रोकथाम कानून के तहत जब्त कर लिया गया है। आपको बता दें कि NIA ने इससे पहले इस संबंध में एक मामला दर्ज किया था। अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी दुख्तरान-ए-मिल्लत की प्रमुख है और लंबे समय से घाटी में सक्रिय रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अंद्राबी के मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के साथ भी बेहद करीबी रिश्ते हैं।

पाकिस्तानी झंडा फहराने पर सुर्खियों में आई थी

कश्मीरी अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी ने खुलासा किया था कि वह पाकिस्तानी सेना के एक अधिकारी के जरिये लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद के करीब आई। अधिकारी दुख्तारन-ए-मिल्लत नेता अंद्राबी का रिश्तेदार था। कश्मीर यूनिवर्सिटी से विज्ञान में स्नातक अंद्राबी 4 साल पहले पाकिस्तानी झंडा फहराने और पाकिस्तानी राष्ट्रगान गाने के कारण सुर्खियों में आई थी। अंद्राबी के इस कृत्य के पीछे हाफिज सईद को माना जाता है। एनआईए सूत्र ने कहा कि अंद्राबी का भतीजा पाकिस्तान सेना में कैप्टन रैंक का अधिकारी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...