1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में शराब माफियाओं का आतंक जग जाहिर, पत्रकार की हत्या की हो निष्पक्ष जांच : मायावती

यूपी में शराब माफियाओं का आतंक जग जाहिर, पत्रकार की हत्या की हो निष्पक्ष जांच : मायावती

यूपी के प्रतापगढ़ जिले में न्यूज चैनल के पत्रकार की मौत मामले में प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है। इस घटना की तमाम राजनीतिक दल निष्पक्ष जांच की मांग रहे हैं। इसी क्रम में बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ट्वीट कर जांच की मांग की है। मायावती ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी में शराब माफियाओं आदि का आतंक किसी से छिपा नहीं है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के प्रतापगढ़ जिले में न्यूज चैनल के पत्रकार की मौत मामले में प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है। इस घटना की तमाम राजनीतिक दल निष्पक्ष जांच की मांग रहे हैं। इसी क्रम में बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ट्वीट कर जांच की मांग की है। मायावती ने ट्वीट कर कहा है कि यूपी में शराब माफियाओं आदि का आतंक किसी से छिपा नहीं है। बसपा की मांग है कि घटना अविलंब जांच कराई जाए और दोषियों पर सख्त सजा सुनिश्चित की जाए।

पढ़ें :- यूपी: अखिलेश यादव ने पूछा, बसपा-कांग्रेस स्पष्ट करे उसकी लड़ाई भाजपा या सपा से?

मायावती ने ट्वीट किया कि यूपी में शराब माफियाओं आदि का आतंक किसी से भी छिपा हुआ नहीं है, जिनके काले कारनामों को उजागर करने पर ताजा घटना में प्रतापगढ़ जिले के टीवी पत्रकार की नृशंस हत्या अति-दुःखद। सरकार घटना की अविलम्ब निष्पक्ष व विश्वसनीय जांच कराकर दोषियों को सख्त सजा सुनिश्चित करे, बीएसपी की मांग है।

पढ़ें :- Akhilesh Yadav, बोले- 2022 में भाजपा की गेंद यूपी के स्टेडियम से पार भेजेंगे युवा

बता दें इससे पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी ट्वीट किया कि प्रतापगढ़ में एक कथित हादसे में एक टीवी पत्रकार की संदिग्ध मौत बेहद दुखद है। भावभीनी श्रद्धांजलि! भाजपा सरकार इस मामले में एक उच्च स्तरीय जांच बैठाकर परिजन और जनता को ये बताए कि पत्रकार द्वारा शराब माफिया के हाथों हत्या की आशंका जताने के बाद भी उन्हें सुरक्षा क्यों नहीं दी गयी?

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। पत्र में प्रियंका गांधी ने पत्रकार के परिवार को न्याय, आर्थिक मदद और पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किये हैं।

बता दें प्रतापगढ़ के थाना कोतवाली नगर क्षेत्र के सुखपाल नगर ईंट भट्ठे के निकट एक समाचार चैनल के पत्रकार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। शराब माफिया के विरुद्ध खबर चलाने वाले पत्रकार ने बीती 12 जून को अपर पुलिस महानिदेशक, प्रयागराज को पत्र लिखकर सुरक्षा की मांग की थी।

अपर पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र द्विवेदी ने सोमवार को बताया कि एक निजी समाचार चैनल के रिपोर्टर सुलभ श्रीवास्तव रविवार रात को लालगंज अंतर्गत असरही गाव से मोटरसाइकिल से घर लौट रहे थे कि थाना कोतवाली नगर क्षेत्र के सुखपाल नगर ईंट भट्ठे के निकट खंभे से मोटरसाइकिल टकरा जाने के कारण वह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्होंने बताया कि सुलभ को उपचार हेतु जिला चिकित्सालय लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस सभी पहलुओं की गहराई से जांच कर विधिक कार्रवाई कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। इसके बाद परिजनों की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

पढ़ें :- प्रियंका गांधी का केंद्र और यूपी सरकार पर हमला, कहा-धोखाधड़ी करके कुपोषण में उप्र को नंबर 1 बना दिया
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...