1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Terrorist attack in Srinagar : जैश के दो और एक स्थानीय आतंकी ने श्रीनगर हमले को दिया अंजाम

Terrorist attack in Srinagar : जैश के दो और एक स्थानीय आतंकी ने श्रीनगर हमले को दिया अंजाम

Terrorist attack in Srinagar : जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu-Kashmir Police) के आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने मंगलवार को बताया कि श्रीनगर आतंकी हमले को जैश के 2 पाकिस्तानी आतंकी (2 Pakistani terrorists of Jaish) और एक स्थानीय आतंकी ने अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान POK में लॉन्चिंग पैड से ग्लाइडर के जरिए जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को दाखिल करने की कोशिश में है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Terrorist attack in Srinagar : जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu-Kashmir Police) के आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने मंगलवार को बताया कि श्रीनगर आतंकी हमले को जैश के 2 पाकिस्तानी आतंकी (2 Pakistani terrorists of Jaish) और एक स्थानीय आतंकी ने अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान POK में लॉन्चिंग पैड (Launching Pad) से ग्लाइडर के जरिए जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को दाखिल करने की कोशिश में है।

पढ़ें :- गौतम अडानी का साम्राज्य तबाह करने वाले नाथन एंडरसन जानें कौन हैं?

आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने बताया कि अब कश्मीर में एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए सुरक्षाकर्मियों को बुलेट प्रूफ वाहन उपलब्ध कराए जाएंगे। उन्होंने कहा कि आतंकवादियों ने योजनाबद्ध तरीके से इस हमले को अंजाम दिया है। आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने कहा कि आतंकी जानते थे कि रोजाना बस में बैठ ये सुरक्षाकर्मी इसी रास्ते से गुजरते हैं। यही नहीं उन्होंने इस हमले को उस समय अंजाम दिया जब रोड ओपनिंग दल हटा लिए गए थे।

आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने कहा कि परंतु मैं यह आतंकी संगठनों को स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हमारे जवानों पर हमला करने वाले आतंकवादी जहां कहीं भी छिपे होंगे, उन्हें ढूंढ निकाला जाएगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही वे हमारे शिकंजे में होंगे। हमने उनकी पहचान कर ली है। इस हमले को तीन आतंकवादियों ने अंजाम दिया और इनमें दो पाकिस्तानी जबकि एक स्थानीय आतंकी शामिल था। स्थानीय आतंकी को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा और जल्द ही पूरे समूह को खत्म कर दिया जाएगा।

श्रीनगर पंथाचौक (Srinagar Pantha Chowk) आतंकी हमले में शहीद कांस्टेबल रमीज अहमद बाबा (Martyr Constable Rameez Ahmed Baba) को श्रद्धांजलि देने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए आईजीपी कश्मीर विजय कुमार (IGP Vijay Kumar)  ने कहा कि हमलावरों ने पहले से ही इलाके की रेकी कर इस हमले को अंजाम दिया है। हमला तब हुआ जब सुरक्षाबलों के रोड ओपनिंग दलों को हटा लिया गया था। उन्होंने कहा कि उनका मकसद पहले पुलिसकर्मियों को मारना फिर उनके हथियार लूटकर ले जाना था, परंतु घायल होने केे बावजूद जवानों ने आतंकवादियों का डटकर मुकाबला किया। उनके मकसद को नाकाम बना दिया। जवाबी फायरिंग में एक आतंकी घायल भी हुआ है।

यह पूछने पर कि क्या हमलावरों के बारे में कोई सुराग मिला है। इस पर आइजीपी ने कहा कि हमले को अंजाम देने वाले कश्मीर टाइगर्स (Kashmir Tigers) जो कि जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) का ही एक अलग गुट है, के आतंकियों की धरपकड़ के लिए सुरक्षाबलों का अभियान जारी है। जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि तीन आतंकवादियों में से एक हमारे लोगों द्वारा जवाबी कार्रवाई में घायल हो गया था, उसके खून के निशान पांपोर में मिले हैं। वहां से आतंकियों का यह समूह पुलवामा के त्राल भाग गया है। हमारे पास अन्य सुराग भी हैं। हम जल्द ही समूह का पता लगा लेंगे।

पढ़ें :- जिस देश के युवा उत्साह और जोश से भरे हुए हों, उस देश की प्राथमिकता सदैव युवा ही होंगे: पीएम मोदी

आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने बताया कि पंथाचौक आतंकी हमले में अभी तक तीन जवान बलिदान दे चुके हैं जबकि 11 जवानों का इलाज चल रहा है। पुलिस व सेना का एक संयुक्त दल समूह का पीछा कर रहा है। आईजीपी विजय कुमार (IGP Vijay Kumar) ने बताया कि बस में पुलिस सशस्त्र बल की एआरपी 9 बटालियन के 25 पुलिसकर्मी बैठे हुए थे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...