दादरी व मैनपुरी मामले का बदला लेने की फिराक में आतंकी संगठन, यूपी में हाई अलर्ट जारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश इन दिनों कई आतंकी संगठनों के निशाने पर है। वजह सूबे में हुआ दादरी और मैनपुरी में हुई वह घटना जहां गौहत्या को लेकर हिंसक वारदात को अंजाम दिया गया। अब आतंकवादी इन घटनाओं के बदले के रूप में प्रदेश के कई जिलों में धमाका करने की योजना गढ़ रहे हैं। इस बात की जानकारी खुफिया विभाग ने दी। खुफिया विभाग से मिली जानकारी के बाद सूबे में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी रिपोर्ट के अनुसार, खुफिया विभाग को इस बात की जानकारी इंटरसेप्ट किए गए कुछ कोड प्राप्त होने के बाद हुई। बताया जा रहा है कि इंटरसेप्ट से मिली जानकारी से यह भी पता चला है कि आतंकी संगठन विश्व हिन्दू परिषद के नेता अशोक सिंघल व प्रवीण तोगड़िया को भी निशाना बना सकते हैं।

बताया जा रहा है अपनी इस सोच को अंजाम देने के लिए आतंकी संगठन ने महिला पुलिस का प्रयोग करने की योजना बनाई है। संगठनों से जुड़े कुछ लोग प्रदेश की महिला पुलिस अफसरों को हनी ट्रैप में फंसाकर उनका साजिश में इस्तेमाल करेंगे।

इंटरसेप्ट में एक शख्स दूसरे को भरोसा दिलाता है कि आतंकी संगठन से जुड़े पुरुषों के झांसे में आईं कुछ महिला पुलिस अफसर भी साजिश में उनकी मदद करेंगी। प्रदेश में बेहद संवेदनशील माने जाने वाली जगह मसलन-काशी विश्वनाथ मंदिर और अयोध्या के रामलला मंदिर को निशाना बनाने की बात कही गई है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इंटेलिजेंस एजेंसियों और मिलिट्री ने इलाहाबाद में दो लोगों को हिरासत में लिया है। इन्होंने पूछताछ में यूपी विधानसभा, इलाहाबाद हाईकोर्ट, कानपुर रेलवे स्टेशन और इलाहाबाद में पूर्व सैनिकों की कॉलोनियों को निशाना बनाने की साजिश का खुलासा किया है।

 

मालूम हो कि बीते 29 सितंबर को दादरी में गौमांस पकाने की अफवाह फैलाकर भीड़ ने मो. अखलाक नाम के एक 50 वर्षीय बुजुर्ग की हत्या कर दी थी, हालांकि बाद में पता चला था यह झूठी अफवाह थी। इसके बाद मैनपुरी में भी गौहत्या की बात कहकर भीड़ ने दो युवकों की जमकर पिटाई कर दी थी