ओसामा और हक्कानी जैसे आतंकवादी पाकिस्तानी नायक हुआ करते थे: परवेज मुशर्रफ

Pervez Musharraf
ओसामा और हक्कानी जैसे आतंकवादी पाकिस्तानी नायक हुआ करते थे: परवेज मुशर्रफ

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने एक बार फिर पाकिस्तान पर हमला किया है। इस बार उन्होने पाकिस्तान पर आरोप लगाते हुए कहा कि ओसामा और हक्कानी जैसे आतंकवादियों को पाकिस्तान में नायक माना जाता था। उनका कहना है कि भारत पर हमला करने के लिए कश्मीरियों को पाकिस्तान ट्रेनिंग देता था। उनका कहना हे कि भारत पर हमला करने वाले इन आतंकियो को पाकिस्तान में हीरो माना जाता था।

Terrorists Like Osama And Haqqani Used To Be Pakistans Heroes Pervez Musharraf :

 

पाकिस्तान के राजनेता फरहतुल्लाह बाबर ने बुधवार को ट्विटर पर मुशर्रफ का एक वीडियो साझा किया है जिसमें मुशर्रफ ने पाकिस्तान का पूरा पर्दाफाश कर दिया। उन्होन कहा पूरी दुनिया में सबसे बड़े आतंकी माने जाने वाले ओसामा बिन लादेन और जलालुद्दीन हक्कानी जैसे आतंकवादी पाकिस्तानी नायक हुआ करते थे। मुशर्रफ ने कहा कि पाकिस्तान ने ही अफगानिस्तान में भी धार्मिक आतंकवाद की शुरुआत की थी। उन्होंने कहा कि इसकी शुरूवात 1979 में हुई थी। तब पाकिस्तान को लाभ पहुंचाने और सोवियत संघ (वर्तमान रूस) को वहां से बाहर निकालने के लिए अफगानिस्तान में धार्मिक उग्रवाद फैलाया गया था।

उन्होने स्वीकारा कि दुनिया भर के आतंकवादियों को हमने प्रशिक्षित भी किया साथ ही उन्हें हथियार भी मोहईया करवाये गये। तब ओसामा हमारे नायक हुआ करते थे, लेकिन अब वही नायक खलनायक बन गये। जो कश्मीरी भारत पर हमला करने की ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान आते थे उनका जोरदार स्वागत किया जाता था। हम उन्हें मुजाहिदीन मानते थे, लश्कर ए तैय्यबा जैसे आतंकी इसी वजह से मजबूत हो गये।

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने एक बार फिर पाकिस्तान पर हमला किया है। इस बार उन्होने पाकिस्तान पर आरोप लगाते हुए कहा कि ओसामा और हक्कानी जैसे आतंकवादियों को पाकिस्तान में नायक माना जाता था। उनका कहना है कि भारत पर हमला करने के लिए कश्मीरियों को पाकिस्तान ट्रेनिंग देता था। उनका कहना हे कि भारत पर हमला करने वाले इन आतंकियो को पाकिस्तान में हीरो माना जाता था।   पाकिस्तान के राजनेता फरहतुल्लाह बाबर ने बुधवार को ट्विटर पर मुशर्रफ का एक वीडियो साझा किया है जिसमें मुशर्रफ ने पाकिस्तान का पूरा पर्दाफाश कर दिया। उन्होन कहा पूरी दुनिया में सबसे बड़े आतंकी माने जाने वाले ओसामा बिन लादेन और जलालुद्दीन हक्कानी जैसे आतंकवादी पाकिस्तानी नायक हुआ करते थे। मुशर्रफ ने कहा कि पाकिस्तान ने ही अफगानिस्तान में भी धार्मिक आतंकवाद की शुरुआत की थी। उन्होंने कहा कि इसकी शुरूवात 1979 में हुई थी। तब पाकिस्तान को लाभ पहुंचाने और सोवियत संघ (वर्तमान रूस) को वहां से बाहर निकालने के लिए अफगानिस्तान में धार्मिक उग्रवाद फैलाया गया था। उन्होने स्वीकारा कि दुनिया भर के आतंकवादियों को हमने प्रशिक्षित भी किया साथ ही उन्हें हथियार भी मोहईया करवाये गये। तब ओसामा हमारे नायक हुआ करते थे, लेकिन अब वही नायक खलनायक बन गये। जो कश्मीरी भारत पर हमला करने की ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान आते थे उनका जोरदार स्वागत किया जाता था। हम उन्हें मुजाहिदीन मानते थे, लश्कर ए तैय्यबा जैसे आतंकी इसी वजह से मजबूत हो गये।