श्रीलंका में राष्ट्रपति चुनाव की घोषणा, इस महीने हो सकते है इलेक्शन

srilanka-election-commission
श्रीलंका में राष्ट्रपति चुनाव की घोषणा, इस महीने हो सकते है इलेक्शन

नई दिल्ली। भारत में लोकसभा चुनाव के बाद अब पड़ोसी देश श्रीलंका में भी चुनाव आयोग प्रमुख महिंदा देशप्रिय ने घोषणा करते हुए कहा है कि देश में राष्ट्रपति चुनाव 15 नवंबर से 7 दिसंबर के बीच होंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक, चुनाव मौजूदा राष्ट्रपति के कार्यकाल से एक महीने पहले होना चाहिेए।

The Announcement Of The Presidential Election In Sri Lanka Election May Held In This Month :

दरअसल, श्रीलंका चुनाव आयोग के प्रमुख देशप्रिय का यह बयान तब आया है जब राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने पिछले हफ्ते भारत में संवादाताओं से कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव की सात दिसंबर को होगा। जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति सिरिसेना का पांच साल का कार्यकाल आठ जनवरी, 2020 को खत्म हो जाएगा।

बता दें कि देशप्रिय ने दक्षिण कोलंबो के मोरातुवा उपनगर में शनिवार को आयोजित वोटर्स डे के कार्यक्रम को संबोधित भी किया। उसी दौरान उन्होंने कहा कि सबसे राषअट्रपति चुनाव की तारीख 15 नवंबर हो सकती है। क्योंकि, 10 नवंबर को रविवार है और 12 नवंबर को पोया दिवस है। (बौद्ध पवित्र दिन) है। चुनाव के लिहाज से 7 दिसंबर आखिरी तारीख होगी। देशप्रिय ने कहा कि चुनाव आयोग को 15 नवंबर से सात दिसंबर के बीच किसी भी दिन कराने के लिए कहा जा सकता है।

नई दिल्ली। भारत में लोकसभा चुनाव के बाद अब पड़ोसी देश श्रीलंका में भी चुनाव आयोग प्रमुख महिंदा देशप्रिय ने घोषणा करते हुए कहा है कि देश में राष्ट्रपति चुनाव 15 नवंबर से 7 दिसंबर के बीच होंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक, चुनाव मौजूदा राष्ट्रपति के कार्यकाल से एक महीने पहले होना चाहिेए। दरअसल, श्रीलंका चुनाव आयोग के प्रमुख देशप्रिय का यह बयान तब आया है जब राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने पिछले हफ्ते भारत में संवादाताओं से कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव की सात दिसंबर को होगा। जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति सिरिसेना का पांच साल का कार्यकाल आठ जनवरी, 2020 को खत्म हो जाएगा। बता दें कि देशप्रिय ने दक्षिण कोलंबो के मोरातुवा उपनगर में शनिवार को आयोजित वोटर्स डे के कार्यक्रम को संबोधित भी किया। उसी दौरान उन्होंने कहा कि सबसे राषअट्रपति चुनाव की तारीख 15 नवंबर हो सकती है। क्योंकि, 10 नवंबर को रविवार है और 12 नवंबर को पोया दिवस है। (बौद्ध पवित्र दिन) है। चुनाव के लिहाज से 7 दिसंबर आखिरी तारीख होगी। देशप्रिय ने कहा कि चुनाव आयोग को 15 नवंबर से सात दिसंबर के बीच किसी भी दिन कराने के लिए कहा जा सकता है।