डोपिंग मामले में 11 अन्य रूसी एथलीटों पर आजीवन प्रतिबंध

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक संघ ने 2014 के डोपिंग मामले में दोषी पाए गए रूस के 11 अन्य एथलीट्स पर आजीवन प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। इन एथलीट्स ने 2014 के शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में डोपिंग नियमों का उल्लंघन किया था। जिनके ब्लड सैंपल में ओलंपिक डोप टेस्ट कमिटी ने बड़े स्तर पर ड्रग होने की पुष्टि की थी।

सूत्रों के अनुसार, 2014 में आयोजित हुए शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में उन्होंने जिन स्पर्धाओं में हिस्सा लिया था, उन स्पर्धाओं से उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- पेरिस 2024 और लॉस एंजिलिस 2028 ओलंपिक की मेजबानी करेंगे }

इन 11 एथलीटों में 2014 में आयोजित हुए शीतकालीन ओलम्पिक खेलों रजत पदक विजेता एथलीट एल्बर्ट डेमचेंको शामिल भी शामिल हैं।

इसके अलावा, इनमें स्पीट स्केटर इवान स्कोब्रेव, आर्टम कुजनेत्सोव, लुगेर तातयाना इवानोवा, निकिता क्रेयुकोव, एलेक्जेंडर बेस्मेर्तनेक और नतालिया मातवीना, लियुडमीला उदोबकीना, मेक्सिम बेलुगिन, तातियाना बुरिना और एना स्चुकिना शामिल हैं।

{ यह भी पढ़ें:- रूसी एथलीट एना प्यातेख पर 4 वर्ष का प्रतिबंध, छिन जाएगा विश्व चैम्पियनशिप मेडल }

आईओसी ने अब तक कुल 43 रूसी एथलीटों को प्रतिबंधित किया है।

Loading...