1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. राहुल गांधी का बड़ा आरोप, पूंजीपतियों का कर्ज माफ और अन्नदाताओं की पूंजी साफ करने में लगी है सरकार

राहुल गांधी का बड़ा आरोप, पूंजीपतियों का कर्ज माफ और अन्नदाताओं की पूंजी साफ करने में लगी है सरकार

The Big Charge Of Rahul Gandhi The Government Is Engaged In Waiving The Debt Of The Capitalists And Clearing The Capital Of The Donors

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के बीच कांग्रेस का हमला लगातार जारी है। कांग्रेस ने एक बार फिर कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार कुछ पूंजीपतियों का कर्ज माफ करने के साथ अन्नदाताओं की पूंजी साफ करने में लगी है।

पढ़ें :- BJP नेता के मछली से जुड़ी तंज के बाद, मतस्य विभाग की जानकारी ना होने पर अमित शाह ने RAHUL को घेरा

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को ट्वीट कर पूंजीपतियों के प्रतिवर्ष माफ किए गए लोन का ग्राफिक्स शेयर किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “अपने सूट-बूट वाले दोस्तों का 875000 करोड़ क़र्ज़ माफ़ करने वाली मोदी सरकार अन्नदाताओं की पूंजी साफ़ करने में लगी है।”

इससे पहले भी राहुल केंद्र सरकार पर किसानों की परवाह नहीं करने का आरोप लगा चुके हैं। उन्होंने यहां तक कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को किसानों से ज्यादा पूंजीपतियों के लाभ की चिंता है। अगर ऐसा नहीं होता को किसानों की फसल सस्ते दाम में पूंजीपति दोस्तों को दिलाने के लिए सरकार कानून का सहारा नहीं लेती।

उल्लेखनीय है कि कृषि कानूनों के खिलाफ 53 दिनों से किसान दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं। प्रदर्शनकारी कृषि कानूनों को रद्द करने तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को कानूनी जामा पहनाने की मांग पर अड़े हैं। जबकि सरकार सिर्फ संशोधन करने को ही तैयार है। इसी को लेकर किसानों और सरकार के बीच पिछले नौ दौर की वार्ता बेनतीजा रही है। हालांकि आगामी 19 जनवरी को एक बार फिर सरकार और किसान नेताओं के बीच बातचीत होनी है।

पढ़ें :- तमिलनाडु: तूतूकुड़ी के मीनाक्षीपुरम में राहुल गांधी ने भरी हुंकार, किया रोड शो

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...