‘कंबल ओढ़कर घी पीने में माहिर है बीजेपी’, जानिए मायावती ने ऐसा क्यों कहा ?

bsp chief
'कंबल ओढ़कर घी पीने में माहिर है बीजेपी', जानिए मायावती ने ऐसा क्यों कहा

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के ऐलान के बाद बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती सक्रिय हो गयीं हैं। वह लगातार बीजेपी पर प्रहार कर रही हैं। ऐसे में उन्होंने बुधवार ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला। ट्वीट में लिखा है कि ‘कंबल ओढ़कर घीर पीने में माहिर है बीजेपी।’ मायावती इन दिनों ट्वीटर पर बेहद ही सक्रिय हैं। लोकसभा चुनाव ऐलान के कुछ दिनों बाद वह ट्वीटर पर आईं थीं, जिसके बाद वह लगातार इसके जरिए बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रही हैं।

The Bjp Specializes In Drinking Ghee By Blanket Know Why Mayawati Said Such A Thing :

मायावती ने ट्वीट में लिखा है कि ‘कंबल ओढ़कर घी पीने में माहिर बीजेपी नहीं भूले कि सैनिकों की वीरता व उनकी शहादत को देश ने हमेशा ही सैलूट व भरपूर आदर—सम्मान दिया है। परन्तु इनकी ही हुकुमत में देश की सुरक्षा को सबसे ज्यादा खतरा व सैनिकों की काफी ज्यादा शहादत क्यों? देश क्या वाकई सुरक्षित हाथों में हैं?’

मायावती ने यह ट्वीट कर भाजपा को घेरने की कोशिश की है। बतातें चलें कि पुलवामा हमले में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले के बाद देश में राजनैतिक पार्टियों ने इस पर भी सियासत शुरू कर दी, जिसको लेकर पार्टियां एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रही हैं।

इससे पहले मायावती ने ट्वीट किया था जिसमें लिखा था कि ‘यूपी बीजेपी सरकार ने लोकलाज त्यागकर लोकसभा चुनाव की घोषणा से ठीक पहले निगम/आयोग में अध्यक्ष आदि पद पर मनोयन कर थोक भाव में रेवड़ियां बांटी। एैश करो अच्छे दिन हैं। एमपी कांग्रेस भी पीछे नहीं रही। लेकिन याद रहे कि जनता सब समझती है। चुनाव में पूरा हिसाब चुकता करेगी।’

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के ऐलान के बाद बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती सक्रिय हो गयीं हैं। वह लगातार बीजेपी पर प्रहार कर रही हैं। ऐसे में उन्होंने बुधवार ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला। ट्वीट में लिखा है कि 'कंबल ओढ़कर घीर पीने में माहिर है बीजेपी।' मायावती इन दिनों ट्वीटर पर बेहद ही सक्रिय हैं। लोकसभा चुनाव ऐलान के कुछ दिनों बाद वह ट्वीटर पर आईं थीं, जिसके बाद वह लगातार इसके जरिए बीजेपी को घेरने की कोशिश कर रही हैं।

मायावती ने ट्वीट में लिखा है कि 'कंबल ओढ़कर घी पीने में माहिर बीजेपी नहीं भूले कि सैनिकों की वीरता व उनकी शहादत को देश ने हमेशा ही सैलूट व भरपूर आदर—सम्मान दिया है। परन्तु इनकी ही हुकुमत में देश की सुरक्षा को सबसे ज्यादा खतरा व सैनिकों की काफी ज्यादा शहादत क्यों? देश क्या वाकई सुरक्षित हाथों में हैं?'

मायावती ने यह ट्वीट कर भाजपा को घेरने की कोशिश की है। बतातें चलें कि पुलवामा हमले में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले के बाद देश में राजनैतिक पार्टियों ने इस पर भी सियासत शुरू कर दी, जिसको लेकर पार्टियां एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रही हैं।

इससे पहले मायावती ने ट्वीट किया था जिसमें लिखा था कि 'यूपी बीजेपी सरकार ने लोकलाज त्यागकर लोकसभा चुनाव की घोषणा से ठीक पहले निगम/आयोग में अध्यक्ष आदि पद पर मनोयन कर थोक भाव में रेवड़ियां बांटी। एैश करो अच्छे दिन हैं। एमपी कांग्रेस भी पीछे नहीं रही। लेकिन याद रहे कि जनता सब समझती है। चुनाव में पूरा हिसाब चुकता करेगी।'