राहत : आम आदमी को नहीं होगी दिक्कत, चलती रहेगी गरीब रथ

gareebrath
राहत : आम आदमी को नहीं होगी दिक्कत, चलती रहेगी गरीब रथ

नई दिल्ली। रेलवे मंत्रालय ने आदमी की सुविधाओं को ध्यान में रखते एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है। मंत्रालय ने एक पत्र जारी करत हुए कहा कि गरीब रथ रेलगाड़ियां बंद नहीं होंगी और पहले की तरह चलती रहेंगी। बता दें कि रेलवे मंत्रालय ने इससे पहले कहा था कि गरीब रथ रेलगाड़ियों को बंद करके इन्हे मेल एक्सप्रेस में बदल दिया जाएगा।

The Common Man Will Not Have Trouble Will Continue To Run Gareeb Rath :

रेलवे मंत्रालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। अपने ट्वीट में मंत्रालय ने लिखा कि मौजूदा समय में रेलवे की ओर से 26 जोड़ी गरीब रथ ट्रेनें चलाई जाती हैं। इनमें एक दर्जन वातानुकूलित कोच हैं। कम कीमत में एसी सुविधा प्रदान करने की वजह से ये ट्रेन काफी लोकप्रिय है। बता दें कि रेलवे मंत्रालय, काठगोदाम और जम्मू तवी के बीच ट्रेन संख्या 12207/08 गरीबरथ एक्सप्रेस और कानपुर और काठगोदाम के बीच ट्रेन संख्या 12209/10 गरीब रथ एक्सप्रेस को 4 अगस्त, 2019 से फिर से बहाल करेगी।

रेलवे मंत्रालय के एक अधिकारी की मानें तो गरीब रथ ट्रेनों को बदलने के लिए फिलहाल कोई योजना नहीं है। इस ट्रेन के फिर से बहाल होने से यात्रियों के किराए में फिर से बचत होगी। गरीब रथ, गरीब आदमी के आर्थिक स्थिति को देखते हुए चलाया गया था इसके तहत किराया अन्य एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेनों की तुलना में कम रखा गया।

नई दिल्ली। रेलवे मंत्रालय ने आदमी की सुविधाओं को ध्यान में रखते एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है। मंत्रालय ने एक पत्र जारी करत हुए कहा कि गरीब रथ रेलगाड़ियां बंद नहीं होंगी और पहले की तरह चलती रहेंगी। बता दें कि रेलवे मंत्रालय ने इससे पहले कहा था कि गरीब रथ रेलगाड़ियों को बंद करके इन्हे मेल एक्सप्रेस में बदल दिया जाएगा। रेलवे मंत्रालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। अपने ट्वीट में मंत्रालय ने लिखा कि मौजूदा समय में रेलवे की ओर से 26 जोड़ी गरीब रथ ट्रेनें चलाई जाती हैं। इनमें एक दर्जन वातानुकूलित कोच हैं। कम कीमत में एसी सुविधा प्रदान करने की वजह से ये ट्रेन काफी लोकप्रिय है। बता दें कि रेलवे मंत्रालय, काठगोदाम और जम्मू तवी के बीच ट्रेन संख्या 12207/08 गरीबरथ एक्सप्रेस और कानपुर और काठगोदाम के बीच ट्रेन संख्या 12209/10 गरीब रथ एक्सप्रेस को 4 अगस्त, 2019 से फिर से बहाल करेगी। रेलवे मंत्रालय के एक अधिकारी की मानें तो गरीब रथ ट्रेनों को बदलने के लिए फिलहाल कोई योजना नहीं है। इस ट्रेन के फिर से बहाल होने से यात्रियों के किराए में फिर से बचत होगी। गरीब रथ, गरीब आदमी के आर्थिक स्थिति को देखते हुए चलाया गया था इसके तहत किराया अन्य एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेनों की तुलना में कम रखा गया।