1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. आगरा में दंपति और उसके इकलौते बेटे की हत्या, घर के अंदर शवों को जलाने की कोशिश

आगरा में दंपति और उसके इकलौते बेटे की हत्या, घर के अंदर शवों को जलाने की कोशिश

By शिव मौर्या 
Updated Date

आगरा। उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। वह बेखौफ होकर वारदात कर रहे हैं। ताजा मामला आगरा का है, जहां पर ट्रिपल मर्डर ने सभी के रोंगटे खड़े कर दिए हैं। वारदात के बाद हत्यारों ने मां—बाप और बेटे के शवों को घर में जलाने की कोशिश की। वहीं, इसकी जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल के बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

आगरा ज़ोन के एडीजी अजय आनंद ने बताया कि तीन व्यक्तियों की हत्या हुई है और हत्या करके उनके शव को जलाने का प्रयास किया गया है। मूलरूप से मथुरा में बल्देव के चौड़ा बंबा निवासी 57 वर्षीय रामवीर करीब 30 वर्ष से नगला किशनलाल में रह रहे थे। तीन कमरों के घर में बाहर के कमरे में परचून की दुकान करते थे। परिवार में रामवीर के साथ उनकी 55 वर्षीय पत्नी मीरा और बेटा 23 वर्षीय बबलू था।

स्थानीय लोगों ने बताया कि देर रात तक परचून की दुकान खुली रहती थी। इसके साथ ही सुबह पांच बजे दुकान खुल जाती थी। सोमवार की सुबह छह बजे पड़ोस के लोग दुकान पर सामान लेने पहुंचे तो वह बंद मिली। दुकान बंद मिली तब उन्होंने राममवीर के भाई रघुवीर को आवाज लगाकर बुलाया।

रघुवीर ने अंदर घर में देखा तो एक कमरे से धुंआ निकल रहा था। अंदर रामवीर और उनकी पत्नी मीरा फर्श पर पड़े थे। उनके शरीर में आग लग रही थी। थोड़ी दूरी पर बेटा बबलू पड़ा था। तीनों के हाथ पैर और मुंह पर टेप लगा था। परिवार की किसी से कोई रंजिश नहीं है। उनकी इस तरह तरह हत्या क्यों हुई। यह कोई समझ नहीं पा रहा है। भाई रघुवीर ने बताया कि घटना के पीछे लूट भी हो सकती है।

घर से कुछ सामान गायब दिख रहा है। रामवीर ने बेटे की रेलवे में नौकरी के लिए एक वर्ष पहले अपना एक प्लाट बेचा था। वह कैश भी घर में रखता था। परिवार के तीनों सदस्यों की हत्या हो गई है, इसलिए इसकी जानकारी करने में समय लगेगा। एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि अभी घटना से जुड़े सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...