1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. दीवाना बना अपराधी, बेरोजगारी में नहीं उठा पा रहा था प्रेमिका का खर्च, सामने आया एक हत्याकांड में नाम

दीवाना बना अपराधी, बेरोजगारी में नहीं उठा पा रहा था प्रेमिका का खर्च, सामने आया एक हत्याकांड में नाम

बेरोजगारी की मार एक प्रेमी युवक के दिमाग पर इस प्रकार सवार हुई कि वो दीवाना से अपराधी बन गया। 

By प्रिन्स राज 
Updated Date

सिमडेगा। बेरोजगारी की मार एक प्रेमी युवक के दिमाग पर इस प्रकार सवार हुई कि वो दीवाना से अपराधी बन गया। घटना झारखंड के सिमडेगा में एक हत्याकांड के खुलासे से मोहब्बत की राह में दीवाना से अपराधी बनने की फिल्मी कहानी से उजागर हुई है।

पढ़ें :- उदयपुर मर्डर मामले में NIA आतंकी कनेक्शन की करेगी जांच,7 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू

पुलिस ने हत्यारे प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।  यह घटना सिमडेगा के पाकरटांड़ थाना इलाके की है। इस ब्लाइंड मर्डर केस के खुलासे से करमजीत नाग की प्रेमी से हत्यारा बनने की कहानी भी उजागर हो गई। यह कहानी कुछ ऐसी है।

सिमडेगा के कुशकेला निवासी कर्मजीत नाग को गांव की ही रहने वाली एक लड़की से प्यार हो गया  करमजीत बेरोजगार था इसलिए उसकी कोई कमाई नहीं थी। अचानक दोनों ने गांव से भागकर जंगल में रहने का फैसला किया।  दोनों ने तकरीबन 8 माह तक जंगल में ठिकाना बदल बदल कर गुजार दिए।

करमजीत की कोई आमदनी नहीं थी इसलिए उनने चोरी करना शुरू कर दिया। वह जंगल से बाहर गांव में निकलता और कोई सामान या नगड चोरी कर फिर जंगल में चला जाता था। चोरी करते करते करमजीत ने छिनतई और लूटपाट भी शुरू कर दिया। कदमाटांड़ बाजार जाने का रास्ता जंगल से होकर गुजरता है। इसलिए उसने बाजार जाने वाले लोगों को टारगेट करना शुरू कर दिया।

इसी दौरान 18 दिसंबर 21 को भेलुआडीह  के शिक्षक जुगलु  साहू जंगल के रास्ते कर्माटांड़ बाजार जा रहे थे। पहले से घात लगाए करमजीत ने जुगलु साहू को अपना शिकार बनाया। उस ने लोहे के हथियार टांगी से उन  पर हमला कर दिया और उनके 12 हज़ार रुपए लूटकर फिर जंगल में भाग गया  लेकिन भागते वक्त उसने अपनी टांगी रास्ते में ही फेंक दी थी।

पढ़ें :- Manish Gupta Murder: क्या हुआ होगा घटना वाली रात, ये समझने के लिए रिक्रिएशन करने गोरखपुर जायेगी सीबीआई की टीम

छानबीन के क्रम में टांगी पुलिस के हाथ लग गई और यही सुराग प्रेमिका का खर्च पूरा करने के लिए प्रेमी से हत्यारा बने करमजीत के लिए नासूर बन गया। अब करमजीत कानून के शिकंजे में है। इस ब्लाइंड मर्डर केस को सुलझाने के लिए पाकरटांड पुलिस की तारीफ हो रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...