1. हिन्दी समाचार
  2. मिर्जापुर : डीएम ने तालाब में उतरकर दो घंटे तक साफ की जलकुंभी, सीडीओ भी रही मौजूद

मिर्जापुर : डीएम ने तालाब में उतरकर दो घंटे तक साफ की जलकुंभी, सीडीओ भी रही मौजूद

The Dm Has Also Got Hyacinth Cdo Clear For Two Hours After Landing In The Pond

By आशीष यादव 
Updated Date

मिर्जापुर। मिर्जापुर के जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने रविवार को तालाब में उतरकर साफ—सफाई की। इस दौरान उनके साथ उनकी टीम मौजूद थी। बताया जा रहा है कि स्थानीय लोग सांप और बिच्छू के डर से तालाब में नहीं उतर रहे थे, लिहाजा जिलाधिकारी खुद ही तालाब में उतर गए और दो घंटे तक जलकुंभी को तालाब से निकाला। इस दौरान सीडीओ प्रियंका निरंजन तालाब के बारह सफाई कर रही थी।

पढ़ें :- नवनीत सहगल को मिली सूचना विभाग की कमान, अवनीश अवस्थी से लिया गया वापस

बता दें कि डीएम मिर्जापुर अनुराग पटेल ऐसे कामों में हमेशा से आगे रहे हैं। अभी हाल ही उन्होने विंध्याचल में फावड़ा चलाकर नदी की सफाई की थी। रविवार को उन्होने पूरे मिर्जापुर में अभियान चलवाकर सैकड़ो तालाबों की सफाई करवाई। अभियान के तहत सिटी ब्लाक के खरहरा गांव मे पूरे सरकारी अमले के साथ डीएम अनुराग पटेल पहुंचे। वो खुद ही तालाब में उतरे और दो घंटे तक जल कुम्भी निकाल कर सफाई की। सफाई के दौरान जिलाधिकारी की पूरी टीम तालाब में ही डटी रही।

बताया जा रहा है कि जल संचय-जीवन संचय थीम के अन्तर्गत जनपद के 126 तालाबों को जलकुम्भी मुक्त अभियान के तहत जिलाधिकारी अनुराग पटेल व मुख्य विकास अधिकारी प्रियंका निरंजन के साथ ग्राम खराहरा में श्रमदान किया है। जलकुम्भी के कारण पूरे तालाब में पानी होते हुये भी कहीं से पानी नहीं दिख रहा।

गौरतलब हो कि डीएम अनुराग पटेल ने साल भर पहले जनपद 505 तालाबों की खोदाई एक साथ किया गया था। उसी क्रम में अब 126 तालाबों को जनपद एक साथ सफाई करने का कार्य किया जा रहा है। इस दौरान प्रत्येक तालाब पर एक जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहा। सफाई अभियान के बाद ग्रामीणों से अपील की गई कि कोई भी शख्स तालाबों को गंदा न करे।

पढ़ें :- हाथरस केस को लेकर बीजेपी विधायक ने राज्यपाल को लिखा पत्र, कहा-डीजीपी-डीएम-एसएसपी पर चले हत्या का केस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...