1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. निर्दयी भाजपा सरकार की एनकाउंटर-संस्कृति ने कुछ पुलिसवालों को बेरहम बना दिया है : अखिलेश यादव

निर्दयी भाजपा सरकार की एनकाउंटर-संस्कृति ने कुछ पुलिसवालों को बेरहम बना दिया है : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने भाजपा सरकार (BJP government) पर हमला बोला है। उन्होंने विधानभवन के सामने शिक्षक भर्ती के अभ्यार्थियों को हटाने की एक फोटो ट्वीट की है। इस फोटो को ट्वीट कर उन्होंने भाजपा सरकार (BJP government) को घेरा है। उन्होंने कहा कि, निर्दयी भाजपा सरकार (BJP government) की एनकाउंटर-संस्कृति ने कुछ पुलिसवालों को बेरहम बना दिया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने भाजपा सरकार (BJP government) पर हमला बोला है। उन्होंने विधानभवन के सामने शिक्षक भर्ती के अभ्यार्थियों को हटाने की एक फोटो ट्वीट की है। इस फोटो को ट्वीट कर उन्होंने भाजपा सरकार (BJP government) को घेरा है। उन्होंने कहा कि, निर्दयी भाजपा सरकार (BJP government) की एनकाउंटर-संस्कृति ने कुछ पुलिसवालों को बेरहम बना दिया है।

पढ़ें :- तानाशाह सरकार के खिलाफ और देश की रक्षा के लिए एक और ‘करो या मरो‘ जैसे आंदोलन की ज़रुरत: राहुल गांधी

पढ़ें :- Tiranga Yatra : अखिलेश यादव बोले- तिरंगा यात्रा के साथ भाजपा करा सकती है दंगा, सत्ता में आया तो करूंगा ये बड़ा काम

दरअसल, अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने जो फोटो ट्वीट की है उसमें पुलिसकर्मी के द्वारा एक अभ्यार्थी की गर्दन पकड़ी गई है। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘निर्दयी भाजपा सरकार की एनकाउंटर-संस्कृति ने कुछ पुलिसवालों को बेरहम बना दिया है। शिक्षक भर्ती के प्रदर्शनकारियों की गर्दन पर हाथ डालने वाले प्रशासन को उप्र के बेरोज़गार युवा बाइस में जवाब देंगे। उप्र के हर एक पुलिसवाले को फिर से संवेदनशील बनाना भविष्य के लिए एक बड़ी चुनौती है’।

बता दें कि, शिक्षक भर्ती के अभ्यार्थी लगातार कुछ दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। बीते दिनों विधान भवन के सामने शिक्षक भर्ती को लेकर अभ्यार्थी प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान पुलिसकर्मी एक अभ्या​र्थी की गर्दन पकड़कर उसे खींचते हुए ले जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर ये फोटो वायरल होने के बाद पुलिसकर्मी पर कार्रवाई की मांग उठ रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...