1. हिन्दी समाचार
  2. नही रूक रही संतो की हत्या, पालघर के बाद बुलंदशहर में 2 साधुओं की हत्या, आरोपी निकला नशेड़ी

नही रूक रही संतो की हत्या, पालघर के बाद बुलंदशहर में 2 साधुओं की हत्या, आरोपी निकला नशेड़ी

The Killing Of Saints Is Not Stopping After Palghar Killing 2 Sadhus In Bulandshahr Accused Turned Intoxicated

लखनऊ। अभी कुछ दिनो पहले ही महाराष्ट्र के पालघर में दो संतों की भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी थी, अभी वह मामला शांत भी नहीं हुआ था कि सोमवार देर रात उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में भी दो साधुओं की धारदार हथियारों से काटकर नृशंस हत्या कर दी गई। मंगलवार सुबह ग्रामीण मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले। इस घटना को लेकर ग्रामीणों में काफी रोष है। फिलहाल घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के दौरान आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी नशेड़ी प्रवत्ति का है और साधुओं से उसका विवाद हुआ था।

पढ़ें :- नौतनवां:एक साथ उठी पति-पत्नी की अर्थिया,रो उठा पूरा नगर

बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना में स्थित शिव मंदिर पर पिछले करीब 10 वर्षों से साधु जगनदास (55 वर्ष) और सेवादास (35 वर्ष) रहते थे। दोनों साधु मंदिर में रहकर पूजा-अर्चना में लीन रहते थे। सोमवार की देर रात मंदिर परिसर में ही दोनों साधुओं की धारदार हथियारों से प्रहार कर हत्या कर दी गई। मंगलवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले। इसे देखकर कोहराम मच गया। बड़ी संख्या में ग्रामीण मंदिर पर पहुंचे।

ग्रामीणों ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी जिसके तुरंत बाद एसएसपी संतोष कुमार सिंह, सीओ अनूपशहर अतुल चौबे, कोतवाल मिथिलेश उपाध्याय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। एसएसपी संतोष कुमार ने बताया कि इस मामले में गांव के ही एक युवक राजू को नशे की हालत में पुलिस ने घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर दूर दूसरे गांव से अर्द्धनग्न अवस्था में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। बताया गया है कि 2 दिन पूर्व आरोपी युवक ने साधुओं का चिमटा गायब कर दिया था, जिसको लेकर साधुओं ने नाराजगी जताई थी। इसी बात से क्षुब्ध होकर उक्त युवक के द्वारा रात्रि में दोनों साधुओं की हत्या किए जाने की आशंका है। पुलिस मामले की गहराई से छानबीन कर रही है।

वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को संज्ञान में लेते हुए डीएम, एसएसपी व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर इस वारदात के संबंध में विस्तृत आख्या देने व दोषियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

17 अप्रैल को पालघर में हुई थी दो साधुओं की पीट-पीटकर हत्या
बता दें कि बीते 17 अप्रैल को महाराष्ट्र के पालघर में दो साधु और एक ड्राइवर की करीब 200 लोगों की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। बताया जाता है कि भीड़ ने इको वैन में बैठे दोनों साधु और उनके ड्राइवर को चोर समझ लिया था और फिर उनकी पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी।

पढ़ें :- किसान आंदोलनः 10वें दौर की बातचीत बेनतीजा, 22 जनवरी को होगी अगली बैठक

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...