1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Corona virus की ताजा रिपोर्ट से मचा हड़कंप, पीएम मोदी ने की उच्चस्तरीय बैठक, पांच राज्यों ने बढ़ाई सरकर की चिंता

Corona virus की ताजा रिपोर्ट से मचा हड़कंप, पीएम मोदी ने की उच्चस्तरीय बैठक, पांच राज्यों ने बढ़ाई सरकर की चिंता

Coronavirus:  भारत समेत पूरी दुनिया में तबाही मचा चुका कोरोना वायरस (Corona virus) फिर से मोदी  सरकार (Modi Government) और स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की टेंशन बढ़ा रहा है। हालांकि लोग अभी खतरे की नई आहट से अंजान हैं, लेकिन कोरोना के नए केसों की संख्या रह-रह कर डरा रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Coronavirus:  भारत समेत पूरी दुनिया में तबाही मचा चुका कोरोना वायरस (Corona virus) फिर से मोदी  सरकार (Modi Government) और स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की टेंशन बढ़ा रहा है। हालांकि लोग अभी खतरे की नई आहट से अंजान हैं, लेकिन कोरोना के नए केसों की संख्या रह-रह कर डरा रही है। अपने देश भारत में पिछले 24 घंटे के भीतर कोरोना के 1,134 नए केस सामने आए हैं। जिसके साथ कोरोना मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 4,46,98,118 पहुंच गई है। जबकि 7,026 मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पढ़ें :- समोसे में मिलाता था गोमांस, खुलासा होते ही लोगों के उड़ गए होश

देश में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आज यानी बुधवार को अहम बैठक की। इस दौरान देश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की गई। जानकारी के मुताबहिक, कोरोना के मामलों में तेजी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)  हालात और सार्वजनिक स्वास्थ्य तैयारियों की समीक्षा के लिए यह उच्च स्तरीय बैठक बुलाई थी।

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Ministry of Health) के बुधवार को अपडेट किए गए आंकड़ों से पता चला कि भारत में 1134 नए कोरोना के मामले दर्ज किए गए। मौजूदा वक्त में 7,026 कोरोना संक्रमितों का इलाज चल रहा है। इस दौरान पांच लोगों की मौत भी हुई। छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात और महाराष्ट्र में एक-एक मौत की खबर है। इसके अलावा एक कोरोना संक्रमित की जान केरल में गई। देश में दैनिक सकारात्मकता 1.09 फीसदी दर्ज की गई, जबकि साप्ताहिक सकारात्मकता 0.98 प्रतिशत आंकी गई।

पांच राज्यों ने बढ़ाई सरकर की चिंता

इससे पहले 16 मार्च को केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (Union Ministry of Health and Family Welfare) ने कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्यों को चिट्ठी लिखी थी। मंत्रालय ने महाराष्ट्र, गुजरात, तेलंगाना, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक को चिट्ठी लिखकर कोरोना के प्रति सतर्क रहने को कहा था। मंत्रालय ने परीक्षण, ट्रैक, उपचार, टीकाकरण और कोरोना से लड़ने के अनुरूप व्यवहार की रणनीति का पालन करने को कहा था। इन राज्यों में कोविड-19 मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। ऐसे में सरकार से फाइव फोल्ड स्ट्रैटेजी के तहत हालात पर नजर रखने और जरूरी उपाय करने को कहा है।

केरल में हालात बिगड़ने की आशंका

पढ़ें :- Cyclone Biporjoy : विकराल रूप ले सकता चक्रवाती तूफान 'बिपरजॉय', इन राज्यों के लिए खतरे की घंटी

केरल में कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं। इसके बाद राज्य सरकार ने बुधवार को सभी जिलों में अलर्ट जारी किया है। स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने बताया कि राज्य में मंगलवार को 172 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। तिरुवनंतपुरम और एर्नाकुलम जिलों में वायरस के मामले अधिक हैं। राज्य में फिलहाल 1,026 सक्रिय मामले हैं, इनमें 111 लोगों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है। सभी जिलों को अलर्ट कर दिया गया है। जिलों को निगरानी मजबूत करने का भी निर्देश दिया गया है।

इस तरह बढ़े मामले
भारत में सात अगस्त 2020 को कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ से अधिक हो गए थे। चार मई 2021 को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। पिछले साल 25 जनवरी को संक्रमण के कुल मामले चार करोड़ के पार चले गए थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...