दिग्गज धावक उसेन बोल्ट की नहीं हो पाई गोल्डन विदाई

लंदन | विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप को करियर की अंतिम प्रतियोगिता बताने वाले जमैका के दिग्गज धावक उसेन बोल्ट के लिए करियर का समापन निराशाजनक रहा। पुरुषों की 100 मीटर रेस स्पर्धा के दिग्गज बोल्ट को इस चैम्पियनशिप में इस स्पर्धा में कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। इसके अलावा, शनिवार रात हुई चार गुणा 100 मीटर रेस में अन्य तीन एथलीटों के साथ जमैका का प्रतिनिधित्व कर रहे बोल्ट रेस के दौरान चोटिल हो गए और इस कारण उनकी टीम…

लंदन | विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप को करियर की अंतिम प्रतियोगिता बताने वाले जमैका के दिग्गज धावक उसेन बोल्ट के लिए करियर का समापन निराशाजनक रहा। पुरुषों की 100 मीटर रेस स्पर्धा के दिग्गज बोल्ट को इस चैम्पियनशिप में इस स्पर्धा में कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

इसके अलावा, शनिवार रात हुई चार गुणा 100 मीटर रेस में अन्य तीन एथलीटों के साथ जमैका का प्रतिनिधित्व कर रहे बोल्ट रेस के दौरान चोटिल हो गए और इस कारण उनकी टीम स्पर्धा से बाहर हो गई।

{ यह भी पढ़ें:- CWG2018 : पहलवान बजरंग पुनिया ने भारत को दिलाया 17वां स्वर्ण पदक }

बोल्ट की चोट के कारण बाहर हुई जमैका की टीम इस स्पर्धा में अपना खिताब बचाने से भी चूक गई। बोल्ट ने इससे पहले, 200 मीटर स्पर्धा में हिस्सा नहीं लिया था।

यह पहली चैम्पियनशिप है, जिसमें बोल्ट 100 मीटर, 200 मीटर या चार गुणा 100 मीटर में से किसी भी स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल करने में असफल रहे। 2007 में उन्होंने 200 मीटर और चार गुणा 100 मीटर स्पर्धा में रजत पदक जीता था। इस चैम्पियनशिप के 2013 और 2015 संस्करण में उन्होंने तीनों स्पर्धाओं में स्वर्ण पदक जीते थे।

{ यह भी पढ़ें:- CWG2018 : राष्ट्रगान बजा तो पहलवान राहुल की आंखों में छलक पड़े आंसू }

Loading...