1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अजान की तेज आवाज मेरे स्वास्थ्य के लिए खतरा ,जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी ने योगी को लिखा खत

अजान की तेज आवाज मेरे स्वास्थ्य के लिए खतरा ,जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी ने योगी को लिखा खत

शिया वक्फ बोर्ड (Shia Waqf Board) के पूर्व चेयरमैन जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी (Jitendra Narayan Tyagi alias Waseem Rizvi ) ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) को पत्र लिखा है। जिसमें मस्जिदों से तेज अजान की आवाज आने पर आपत्ति जताते हुए रोक की मांग की है। रिजवी कहा कि इन आवाजों से उनकी सेहत बिगड़ रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। शिया वक्फ बोर्ड (Shia Waqf Board) के पूर्व चेयरमैन जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी (Jitendra Narayan Tyagi alias Waseem Rizvi ) ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP Chief Minister Yogi Adityanath) को पत्र लिखा है। जिसमें मस्जिदों से तेज अजान की आवाज आने पर आपत्ति जताते हुए रोक की मांग की है। रिजवी कहा कि इन आवाजों से उनकी सेहत बिगड़ रही है।

पढ़ें :- वसीम रिजवी उर्फ जितेंद्र नारायण त्यागी का शिया वक्फ बोर्ड से इस्तीफा

पत्र में उन्होंने शिकायत की है कि सुबह पांच बजे से लेकर रात आठ बजे तक अजान होती है। निर्धारित समय पर लखनऊ पश्चिम क्षेत्र (Lucknow West Zone) और मध्य क्षेत्र की सभी मस्जिदों से ध्वनि कानून का उल्लंघन करते हुए बहुत तेज आवाज में अजान दी जाती है। उन्होंने शिकायती पत्र में कहा कि मेरे समर्थकों द्वारा बरेली, मुरादाबाद, संभल से भी इस तरीके की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं।

उन्होंने मांग की है कि राजधानी लखनऊ पश्चिम क्षेत्र के जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों और बरेली, मुरादाबाद व संभल के जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया जाए के ध्वनि कानून का पालन कराया जाए।

तेज आवाज से बिगड़ जाता है स्वास्थ्य

जितेंद्र नारायण त्यागी (Jitendra Narayan Tyagi) ने पत्र में कहा कि मैं पुराने लखनऊ के पश्चिम क्षेत्र के नक्खास स्थित अपनी बेटी के घर में एक कमरे में रह रहा हूं जो कि मुस्लिम बहुल्य क्षेत्र है। उन्होंने कहा कि मैं डायबिटीज और हृदय रोग का मरीज हूं। तेज आवाज में दिए जाने वाली अजान से मेरा स्वास्थ्य खराब हो रहा है।

पढ़ें :- Wasim Rizvi के हिन्दू बनने के बाद, जानें क्या मिला नया नाम?

गौरतलब है कि कोर्ट के आदेशानुसार और सरकार की मुहिम के अंतर्गत पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के धार्मिक स्थलों से पुलिस ने विशेष अभियान चलाकर मानक के विपरीत चल रहे लाउडस्पीकर को हटवाया था। जिसका सभी मुस्लिम धर्मगुरुओं ने भी स्वागत करते हुए आवाज को मानक अनुसार किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...