ग्रामीण इलाकों तक कैश पहुंचाने के लिए एसबीआई ने रवाना किए मोबाइल एटीएम

लखनऊ। 8 नवंबर को लागू हुई नोटबंदी के बाद से नगदी की समस्या से जूझ रहे ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों की सहूलियत के लिए एसबीआई ने नया कदम उठाया है। बैंक ने ग्रामीण आंचल में रहने वाले लोगों के लिए मोबाइल एटीएम सेवा चालू की है। उम्मीद की जा रही है कि कदम से बैंकों में नगदी की कमी के कारण लंबी होती लाइनें छोटी होंगी और नगदी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच सकेगी। बैंक की ओर से कहा गया है कि जिला प्रशासन के बैंकों से बाचचीत कर लोगों की सुविधा के अनुसार मोबाइल एटीएम को पहुंचाने का काम करेंगे।




नगदी की किल्लत से शहरी क्षेत्र के साथ-साथ ग्रामीण इलाके के लोगों को बहुत समस्या आ रही है। नोटबंदी को 10 दिन हो गए हैं लेकिन अभी भी इस समस्या से राहत नहीं मिली है। ग्रामीण लोगों की परेशानियों को देखते हुए प्रशासन ने बैंको के सहयोग से एटीएम वैन को जिले भर के ग्रामीण इलाकों में घुमाने का फैसला लिया है। ये एटीएम उन बड़े अस्पतालों के परिसर में भी खड़े जाएंगे जहां दूर दराज से इलाज के लिए आने वाले लोगों के सामने नगद नोटों की समस्या है।




ये मोबाइल एटीएम वैन खासकर ग्रामीणों को कैश की समस्या को जूझता देख उनकी मदद के लिए लायी गयी है। धनराशि निकालने की अधिकतम सीमा 1000 रखी गयी है मोबाइल एटीएम से कोई भी व्यक्ति 1000 रूपये से अधिक नहीं निकाल सकता। मोबाइल एटीएम के दौरान यदि किसी को कोई समस्या आती है तो इसके लिए सीधेतौर पर हेल्पलाइन नम्बर 0595-2350403 पर शिकायत कर सकते हैं।

Loading...