J&K: किश्तवाड़ के जंगलों में मिली आतंकी गुफा, आतंकियों ने पहाड़ को काट बनाया था ठिकाना

Capture
J&K: किश्तवाड़ के जंगलों में मिली आतंकी गुफा, आतंकियों ने पहाड़ को काट बनाया था ठिकाना

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ भारतीय सुरक्षाबलों के ऑपरेशन ऑलआउट के बाद से आतंकियों ने अपने ठहरने का ठिकाना बदल लिया है। गुप्त सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने रविवार की सुबह को किश्तवाड़ के केशवान ठाकराई इलाके के पंथा जंगल में तलाशी अभियान चलाया।

The Mountain Was Cut By The Militant Hideout Army Destroyed :

भारतीय सुरक्षाबलों को खुफिया जानकारी मिली थी कि केशवान के जंगलों में लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जमाल दीन मौजूद है। जानकारी के आधार पर सेना और पुलिस के जवानों ने पूरे जंगल में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। सर्च ऑपरेशन के दौरान एक पहाड़ का सामने का हिस्सा कटा दिखाई दिया। इस पहाड़ में छोटा सा रास्ता कटा गया था, जिसे सूखे पौधों से ढक दिया गया था।

सुरक्षाबलों ने पौधों को हटाया तो पहाड़ी के बीच में से एक रास्ता निकला हुआ था। रास्ता देखते ही जवान अलर्ट हो गए और पूरे इलाके को घेर लिया। एक जवान जब पहाड़ी के अंदर घुसा तो अंदर से पहाड़ को काटकर पूरा घर बनाया गया था। इस घर में खड़े होने की जगह तो नहीं थी लेकिन उसकी लंबाई काफी ज्यादा थी।

सेना को वहां से एके-47 की गोलियों से भरी हुई तीन मैगजीन, खाने-पीने का सामान, जिसमें आटा, चावल, मैगी, जूस, गैस सिलेंडर, चूल्हा, कंबल, कपड़े, दवाइयां आदि बरामद किए गए हैं। बताया जाता है कि सेना के आने से पहले आतंकी वहां से फरार हो गए थे। सेना ने आतंकी ठिकाने को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया है।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ भारतीय सुरक्षाबलों के ऑपरेशन ऑलआउट के बाद से आतंकियों ने अपने ठहरने का ठिकाना बदल लिया है। गुप्त सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने रविवार की सुबह को किश्तवाड़ के केशवान ठाकराई इलाके के पंथा जंगल में तलाशी अभियान चलाया। भारतीय सुरक्षाबलों को खुफिया जानकारी मिली थी कि केशवान के जंगलों में लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जमाल दीन मौजूद है। जानकारी के आधार पर सेना और पुलिस के जवानों ने पूरे जंगल में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। सर्च ऑपरेशन के दौरान एक पहाड़ का सामने का हिस्सा कटा दिखाई दिया। इस पहाड़ में छोटा सा रास्ता कटा गया था, जिसे सूखे पौधों से ढक दिया गया था। सुरक्षाबलों ने पौधों को हटाया तो पहाड़ी के बीच में से एक रास्ता निकला हुआ था। रास्ता देखते ही जवान अलर्ट हो गए और पूरे इलाके को घेर लिया। एक जवान जब पहाड़ी के अंदर घुसा तो अंदर से पहाड़ को काटकर पूरा घर बनाया गया था। इस घर में खड़े होने की जगह तो नहीं थी लेकिन उसकी लंबाई काफी ज्यादा थी। सेना को वहां से एके-47 की गोलियों से भरी हुई तीन मैगजीन, खाने-पीने का सामान, जिसमें आटा, चावल, मैगी, जूस, गैस सिलेंडर, चूल्हा, कंबल, कपड़े, दवाइयां आदि बरामद किए गए हैं। बताया जाता है कि सेना के आने से पहले आतंकी वहां से फरार हो गए थे। सेना ने आतंकी ठिकाने को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया है।