मोदी युग में राजनीति का नया फंडा, जनता चाहे जिसे वोट दे सरकार तो BJP की बनेगी !

congress
मोदी युग में राजनीति का नया फंडा, जनता चाहे जिसे वोट दे सरकार तो BJP की बनेगी !

नई दिल्ली। जहां मौजूदा वक्त भारत की जनता बीजेपी राज से परेशान है वो किसी भी हाल में बीजेपी की सरकार नहीं बनाना चाहती, हालाकि जमीनी हकीकत कुछ और ही है किसी भी राज्य के चुनाव हो, जनता किसी को भी वोट दे, लेकिन ज्यादातर राज्यों में खिलता कमल ही है।

The New Found Of Indian Politics No Matter Who The People Vote For The Government Will Form The Bjp :

अभी हाल ही कुछ घटनाओं का जिक्र करें तो देखने को मिला है कि बीजेपी नेताओं सरकार बनाने के लिए अविस्मरणीय जोड़— तोड़ किया है। कर्नाटक की बात करें तो यहां हाल ही में हुए चुनाव में जेडीएस और कांग्रेस ने मिलकर सरकार बनाई थी, हालाकि कुछ ही दिनों में बीजेपी ने कुछ विधायकों को तोड़ लिया और अपनी सरकार बना ​ली।

अब यहीं मध्य प्रदेश में हो रहा है। यहां बीजेपी नेताओं ने मध्यप्रदेश कांग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को तोड़ लिया। यहीं नहीं इस कांग्रेस नेता के साथ काफी विधायकों ने भी पार्टी से किनारा कर लिया। अब कांग्रेस नेता कमलनाथ सरकार को सुरक्षित मान रहे हैं, वहीं स्थितियां कुछ और ही बयां कर रही हैं। लोगों का कहना है कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार अब कुछ दिन की ही मेहमान रह गई है।

ये मामले तो बानगी मात्र हैं। हाल ही में हुए कई राज्यों के चुनावों में जनता का रूझान बीजेपी के बिल्कुल खिलाफ था, लेकिन वोटों की गिनती के बाद जो नतीजे आए उन्होने सभी को चकित कर दिया। अब ये कैसे होता है, इसका जवाब फिलहाल किसी के पास नहीं हैं।

नई दिल्ली। जहां मौजूदा वक्त भारत की जनता बीजेपी राज से परेशान है वो किसी भी हाल में बीजेपी की सरकार नहीं बनाना चाहती, हालाकि जमीनी हकीकत कुछ और ही है किसी भी राज्य के चुनाव हो, जनता किसी को भी वोट दे, लेकिन ज्यादातर राज्यों में खिलता कमल ही है। अभी हाल ही कुछ घटनाओं का जिक्र करें तो देखने को मिला है कि बीजेपी नेताओं सरकार बनाने के लिए अविस्मरणीय जोड़— तोड़ किया है। कर्नाटक की बात करें तो यहां हाल ही में हुए चुनाव में जेडीएस और कांग्रेस ने मिलकर सरकार बनाई थी, हालाकि कुछ ही दिनों में बीजेपी ने कुछ विधायकों को तोड़ लिया और अपनी सरकार बना ​ली। अब यहीं मध्य प्रदेश में हो रहा है। यहां बीजेपी नेताओं ने मध्यप्रदेश कांग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को तोड़ लिया। यहीं नहीं इस कांग्रेस नेता के साथ काफी विधायकों ने भी पार्टी से किनारा कर लिया। अब कांग्रेस नेता कमलनाथ सरकार को सुरक्षित मान रहे हैं, वहीं स्थितियां कुछ और ही बयां कर रही हैं। लोगों का कहना है कि मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार अब कुछ दिन की ही मेहमान रह गई है। ये मामले तो बानगी मात्र हैं। हाल ही में हुए कई राज्यों के चुनावों में जनता का रूझान बीजेपी के बिल्कुल खिलाफ था, लेकिन वोटों की गिनती के बाद जो नतीजे आए उन्होने सभी को चकित कर दिया। अब ये कैसे होता है, इसका जवाब फिलहाल किसी के पास नहीं हैं।