1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के पुरोहित को विंध्याचल मंदिर में पुलिस ने पीटा

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के पुरोहित को विंध्याचल मंदिर में पुलिस ने पीटा

विंध्याचल धाम में भक्तों को दर्शन कराने को लेकर पुलिस और पंडों में विवाद हो गया। रविवार दोपहर को कुछ भक्तों को दर्शन के लिए मंदिर में एंट्री कराने वाले पंडे (तीर्थ पुरोहित) को पुलिसकर्मियों ने पीट दिया है। ये पंडा बॉलीवुड के अभिनेता अमिताभ बच्चन के परिवार के तीर्थ पुरोहित हैं। बता दें कि अभिषेक और ऐश्वर्या की शादी के बाद विंध्याचल मंदिर में इन्हीं पंडे के पिता ने पूजा-अर्चना करवाई थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

The Priest Of Century Megastar Amitabh Bachchan Was Beaten Up By The Police In Vindhyachal Temple

विंध्याचल। विंध्याचल धाम में भक्तों को दर्शन कराने को लेकर पुलिस और पंडों में विवाद हो गया। रविवार दोपहर को कुछ भक्तों को दर्शन के लिए मंदिर में एंट्री कराने वाले पंडे (तीर्थ पुरोहित) को पुलिसकर्मियों ने पीट दिया है। ये पंडा बॉलीवुड के अभिनेता अमिताभ बच्चन के परिवार के तीर्थ पुरोहित हैं। बता दें कि अभिषेक और ऐश्वर्या की शादी के बाद विंध्याचल मंदिर में इन्हीं पंडे के पिता ने पूजा-अर्चना करवाई थी। पिटाई का वीडियो भी सामने आया है। पुलिस झगड़े की वजह कोरोना प्रोटोकॉल का तोड़ना बता रही है।

पढ़ें :- यूपी: सहायक अध्यापकों को CM ने बांटे नियुक्ति पत्र, कहा-2017 से पहले भ​र्तियों में स​​क्रिय हो जाते थे वसूली गैंग

बता दें कि रविवार को वीकेंड कर्फ्यू होता है,लेकिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन को उमड़े थे। इस बीच पंडा समाज के अमित पांडेय श्रद्धालुओं को दर्शन कराने में लग गए। इसे वीकेंड कर्फ्यू का उल्लंघन बताकर वहां तैनात करीब 6 से ज्यादा पुलिसकर्मियों ने पंडा को दबोच लिया। पुलिस पंडा को घेरकर घूंसो से जमकर पीटने लगी। इस दौरान कई और पंडे आ गए और विवाद बढ़ गया। पुलिस के साथ भी धक्का मुक्की होने लगी।

पंडों का आरोप है कि वीकेंड लॉकडाउन के कारण रविवार को मंदिर बंद होने के बावजूद पुलिस कर्मियों ने चंदौली के डीएम व उनके परिवार के सदस्यों को दर्शन पूजन कराया। यह देख पुरोहित भी अपने यजमान को लेकर दर्शन पूजन कराने मंदिर पहुंच गए। पुलिस कर्मियों ने उन्हें रोका तो विवाद शुरू हो गया। इस पर पुलिस कर्मियों ने पुरोहित की जमकर पिटाई कर दी।

पुलिस करे तो ठीक, पंडा करे तो नाजायज

इस घटना पर पंडा समाज के पूर्व अध्यक्ष राजन पाठक का आरोप है कि बीते दिन वीकेंड कर्फ्यू पर इन्ही पुलिसकर्मियों ने अपने श्रद्धालुओं को दर्शन व पूजन कराया था। जब यह काम पंडा ने किया तो उसे पुलिस कर्मियों ने पकड़कर पीट दिया। राजन पाठक ने कहा कि पुलिस करे तो ठीक, पंडा करे तो नाजायज। जब मंदिर में दर्शन पर रोक है तो श्रद्धालु कैसे पहुंच रहे हैं? तीर्थ पुरोहितों ने मामले की जांच कर मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है।

पढ़ें :- बांसडीह 362 विधानसभा:- जेपी चंद्रशेखर का वो शिष्य जो आज भी थामें हुए है समाजवादी झंडा, नहीं हुए कभी अपनी विचारधारा से विमुख

एडिशनल एसपी ने सीओ सिटी को सौंपी जांच

एडिशनल एसपी संजय कुमार ने बताया कि विंध्याचल धाम में पंडा और पुलिस के बीच दर्शन को लेकर हुए मामले को देखते हुए सीओ सिटी प्रभात राय को जांच सौंपी गई है । जांच रिपोर्ट आने के बाद कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...