1. हिन्दी समाचार
  2. जनता को पहचानना होगा असली चौकीदार कौन है: तेजबहादुर यादव

जनता को पहचानना होगा असली चौकीदार कौन है: तेजबहादुर यादव

The Public Must Recognize Who Is The Real Watchman Tejbahadur Yadav

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 में चुनाव का माहौल गर्म है। वहीं, पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी एक बार फिर से सुर्खियों में आ गया है। सपा-बसपा गठबंधन की ओर से इस बार वाराणसी के उम्मीदवार बीएसएफ से बर्खास्त हुए जवान तेज बहादुर यादव पीएम मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ने जा रहें हैं। समाजवादी पार्टी के ऐलान के बाद तेजबहादुर ने कहा, जनता को पहचानना होगा कि असली चौकीदार कौन है।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

समाजवादी पार्टी प्रत्याशी तेजबहादुर यादव ने कहा कि, “हमारे मुद्दे जवान, किसान और नौजवानों के लिए नौकरियां हैं। लोगों को पहचानना चाहिए कि देश का असली चौकीदार कौन है। मुझे अपनी जीत पर भरोसा है।” बता दें कि तेज बहादुर यादव पहले प्रधानमंत्री के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ रहे थे।

बताते चलें कि 2017 में बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें उन्होंने जवानों को मिलने वाले खाने की क्वालिटी को लेकर शिकायत की थी। उस दौरान वो चर्चे में बने हुए थे। हालांकि उस शिकायत के बाद उन्हें बर्खास्त कर दिया गया था। तभी से वह केंद्र सरकार के खिलाफ आवाज उठा रहें हैं।

साथ ही ये भी बता दें कि इससे पहले समाजवादी पार्टी ने शालिनी यादव को वाराणसी का उम्मीदवार बनाया था, मगर अब उनकी जगह तेजबहादुर ने ले ली है। अब ये देखना काफी दिलचस्प होगा कि क्या समाजवादी पार्टी का ये कदम उनको वाराणसी से जीत दिलाने में कामयाब रहेगा या नहीं। इस बात का पुष्टि 19 मई को अंतिम चरण के चुनाव बाद ही होगा।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...