1. हिन्दी समाचार
  2. इस राशि और नक्षत्र में लगने वाला है साल का दूसरा चंद्र ग्रहण, बहुत सावधानी की जरूरत

इस राशि और नक्षत्र में लगने वाला है साल का दूसरा चंद्र ग्रहण, बहुत सावधानी की जरूरत

The Second Lunar Eclipse Of The Year Is Going To Take Place In This Sign And Constellation Much Care Is Needed

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

New Delhi: चंद्रग्रहण, हर साल होने वाली एक खगोलीय घटना है । लेकिन इस घटना का असर सभी 12 राशियों के जातक पर पड़ता है । इस वर्ष चार चंद्रग्रहण होने हैं, जिनमें से पहला जनवरी में लग चुका है अब अगला चंद्रग्रहण कब और किस राशि – नक्षत्र में लगेगा ये जानने के लिए आगे पढ़ें । आपको बता दें चंद्र ग्रहण एक ऐसी खगोलीय घटना है जिसमें पृथ्वी सूर्य की रोशनी को चंद्रमा तक पहुंचने से रोकती है । यानी वो समय जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के ठीक बीच में होती हैं । 2020 के बाकी तीनों चंद्र ग्रहण के बारे में भी जानें ।

पढ़ें :- 17 जनवरी 2021 का राशिफल: इस राशि के जातकों को मिलने वाली है शुभ सूचना, जानिए अपनी राशि का हाल

साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण 10-11 जनवरी को लगा था । ये ग्रहण भारत समेत पूरे यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में नजर आया था । अब बात साल के दूसरे चंद्र ग्रहण की जो अगले महीने यानी कि 5-6 जून को लगने जा रहा है । ग्रहण रात 11 बजकर 16 मिनट से प्रारंभ होगा और 2 बजकर 34 मिनट तक रहेगा । ज्‍योतिष के अनुसार ये ग्रहण वृश्चिक राशि और ज्येष्ठा नक्षत्र में होने वाला है ।

चूंकि ये ग्रहण ग्रहण वृश्चिक राशि में होने जा रहा है, इसलिए इसे लेकर बेहद सावधान रहने की जरूरत होगी । ज्‍योतिष जानकारों के अनुसार वृश्चिक राशि में ग्रहण लगने के कारण आपकी राशि, लग्न और 7वां भाव प्रभावित हो रहा है । जिसकी वजह से बुद्धि भ्रमित हो सकती है। आपकी और जीवनसाथी दोनों की सेहत पर भी असर पड़ेगा । ग्रहण की पूरी छाया आपके 7वें भाव पर पड़ रही है, तीसरा, पांचवां और ग्याहरवां भाव भी प्रभावित होगा । किसी भी काम में लाभ नहीं होगा, सेहत से जुड़ी परेशानी घेरे लेंगी । भाई-बहनों से रिश्ते खराब होंगे ।

2020 का तीसरा चंद्र ग्रहण 5 जुलाई, रविवार को लगेगा । चंद्र ग्रहण का समय सुबह 8 बजकर 38 मिनट से प्रारंभ होगा और 11 बजकर 21 मिनट तक रहेगा । दिन में होने के कारण ये भारत में नजर नहीं आएगा । ये ग्रहण पूर्णिमा वाले दिन धनु राशि में लगेगा । इसके अलावा साल का चौथा 30 नवंबर को लगेगा । इसका समय दोपहर 1 बजकर 34 मिनट से प्रारंभ होगा और शाम को 5 बजकर 22 मिनट तक रहेगा । ये भी दिन के समय होने के कारण भारत में नजर नहीं आएगा । ग्रहण रोहिणी नक्षत्र और वृषभ राशि में लगेगा ।

पढ़ें :- रामपुर:मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की चौदह सौ बीघा जमीन सरकार के नाम करने के आदेश,जाने पूरा मामला

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...