1. हिन्दी समाचार
  2. लॉकडाउन में शादी की जिद्द ने सब को पहुंचा दिया सलाखों के पीछे, जानिए क्या है पूरा मामला

लॉकडाउन में शादी की जिद्द ने सब को पहुंचा दिया सलाखों के पीछे, जानिए क्या है पूरा मामला

The Stubborn Marriage In Lockdown Brought Everyone Behind Bars Know What Is The Whole Matter

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

सूरत: गुजरात के नवसारी जिले में लॉकडाउन के बीच शादी की जिद्द ने 14 लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। पुलिस ने लॉकडाउन तोड़ने के आरोप में दूल्हा-दुलहन के साथ रिश्तेदारों और पंडितों को गिरफ्तार किया है।जहां एक तरफ लॉकडाउन के बीच देशभर में लोग अपने-अपने घरों में वक्त गुजार रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो लॉकडाउन का उल्लंघन कर खुद के साथ दूसरों को भी खतरे में डाल रहे हैं। गुजरात के नवसारी जिले में लॉकडाउन के बीच शादी की जिद ने 14 लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

पढ़ें :- बंगालः नारेबाजी से नाराज हुईं ममता बनर्जी, कहा-किसी को बुलाकर बेइज्जत करना ठीक नहीं

पुलिस ने इस सिलसिले में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188 (किसी जनसेवक द्वारा जारी आदेश का उल्लंघन करना) के तहत केस दर्ज किया है। आरोपियों पर सरकारी आदेश के अलावा महामारी एक्ट के तहत भी कार्रवाई की गई है।यहां पुलिस ने लॉकडाउन तोड़ने के आरोप में दूल्हा-दुलहन के साथ रिश्तेदारों और पंडितों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक शुक्रवार सुबह अविक पटेल (28) और निमिषा रमेश पटेल (27) ने एक मंदिर में शादी रचाई। इस शादी के बारे में सूचना मिलने पर पुलिस फौरन मंदिर पहुंची। पुलिस ने जिन 14 लोगों को गिरफ्तार किया है, उनमें नए-नवेले दंपती के अलावा रिश्तेदार और शादी रचाने वाले दो पुरोहित शामिल हैं।

इंस्पेक्टर बीके पटेल का कहना है कि पूछताछ के दौरान दूल्हा-दुलहन ने बताया कि वे मार्च में शादी करने वाले थे, लेकिन लॉकडाउन की वजह से ऐसा नहीं हो सका। जब लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया तो उन्होंने किसी भी सूरत में शादी करने का फैसला किया। केस दर्ज करने के बाद आगे की जांच की जा रही है। बता दें कि गुजरात मेें कोरोना वायरस के अब 1021 मामले सामने आ चुके हैं, वहीं मरने वालों की संख्या 38 पहुंच गई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...