1. हिन्दी समाचार
  2. कम हो रही है सूरज की चमक, घटी पांच गुना रोशनी, वैज्ञानिक चितिंत

कम हो रही है सूरज की चमक, घटी पांच गुना रोशनी, वैज्ञानिक चितिंत

The Suns Brightness Is Getting Reduced Five Times The Light Decreased Scientific Concerns

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

न्यूयार्क: पृथ्वी पर सबसे अधिक प्रकाश और ऊर्जा के स्रोत के रूप में जाना जाने वाले सूर्य की चमक कम हो रहा है। उसकी रोशनी में कमी आई है। वैज्ञानिकों के अनुसार सूरज आकाशगंगा में मौजूद उसके जैसे अन्य तारों की तुलना में कमजोर पड़ गया है और उसकी 5 गुणा कम हो गई है। यह दावा जर्मनी के मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट के अंतरिक्ष वैज्ञानिकों ने किया है। सूरज के इस बदलाव से खौफजदा वैज्ञानिक ये पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है?

पढ़ें :- पढाई का ऐसा जुनून रोज बॉर्डर पार करके स्कूल जाते है बच्चे, साथ रखते हैं पासपोर्ट

अंतरिक्ष वैज्ञानिकों के अनुसार सूरज धरती का इकलौता ऊर्जा स्रोत है लेकिन पिछले 9000 सालों से ये लगातार कमजोर होता जा रहा है और इसकी चमक कम हो रही है। मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के केपलर स्पेस टेलीस्कोप से मिले आकंड़ों का अध्ययन करके यह खुलासा किया है। वैज्ञानिकों ने बताया है कि हमारे आकाशगंगा में मौजूद सूरज जैसे अन्य तारों की तुलना में अपने सूरज की धमक और चमक फीकी पड़ रही है। नासा वैज्ञानिक अभी तक यह नहीं जान पाए हैं कि कहीं ये किसी तूफान से पहले की शांति तो नहीं है।

सूरज और उसके जैसे अन्य तारों का अध्ययन उनकी उम्र, चमक और रोटेशन के आधार पर की गई है। मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिक डॉ. एलेक्जेंडर शापिरो ने बताया कि हम हैरान हैं अपने सूरज से ज्यादा एक्टिव तारे मौजूद हैं हमारी आकाशगंगा में। हमने सूरज का उसके जैसे 2500 तारों से तुलना की है उसके बाद इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं। सूरज पर ये रिपोर्ट तैयार करने वाले दूसरे वैज्ञानिक डॉ. टिमो रीनहोल्ड ने बताया कि सूरज पिछले कुछ हजार साल से शांत है। ये गणना हम सूर्य की सतह पर बनने वाले सोलर स्पॉट से कर लेते हैं। लेकिन पिछले कुछ वर्षों में सोलर स्पॉट की संख्या में भी कमी आई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...