1. हिन्दी समाचार
  2. कार्टून ‘पोपोई’ की तकनीक ऐसे साबित हुई कारगर

कार्टून ‘पोपोई’ की तकनीक ऐसे साबित हुई कारगर

The Technique Of Cartoon Popey Proved To Be Effective

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली। 90 के दशक का लोकप्रिय कार्टून ‘पोपोई’ के सुपर पावर का सीक्रेट पालक में बंद था जिसका रहस्‍य बर्लिन के वैज्ञानिकों को अब पता चला है। जी हां, कार्टून पोपोई और पालक का कनेक्‍शन पुराना है, पालक खाते ही पोपोई में सुपरपावर आ जाता था। अब जाकर यह बात वैज्ञानिकों को समझ में आई है।

पढ़ें :- फिर बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम, जानिए क्‍या रहे 4 महानगरों में भाव...

गौरतलब है कि पालक में एक ऐसा हार्मोन पाया गया है जिसे वैज्ञानिकों ने ताकत बढ़ाने वाला ड्रग करार दिया है। बर्लिन के फ्री यूनिवरसिटि के शोधकर्ताओं ने पालक में एक हार्मोन एक्‍डीस्‍टीरॉन (ecdysterone) पाया जाता है जो स्‍टेरॉयड की तरह काम करता है यानि इस हार्मोन में शरीर की क्षमता बढ़ाने का कार्य करता है। इसके कारण एथलीटों को इसे खाने पर बैन लग सकता है।

वहीं इस हरे-भरे पालक की ओर बच्‍चों का रुझान बढ़ाने के लिए 1980 में एक कार्टून ‘पोपोई- द सेलरमैन’ आया था जिसे पालक खाते ही पावरफुल बनता दिखाया गया था। यूनिवर्सिटी ने सुझाव दिया है कि पालक को WADA (वर्ल्‍ड एंटी-डोपिंग एजेंसी) के प्रतिबंधित लिस्‍ट में डाला जाए।

इतना ही नहीं यूनिवर्सिटी ने 50 एथलीटों पर 10 हफ्ते तक टेस्‍ट किया और पाया की जो एक्‍डीस्‍टीरॉन वाला हार्मोन लेते थे उनकी ताकत ऐसे एथलीटों की तुलना में तीन गुना अधिक बढ़ गई जो इस हार्मोन का सेवन नहीं करते थे। प्रत्‍येक कैप्‍सूल में एक्‍डीस्‍टीरॉन हार्मोन की मात्रा पांच किलो पालक के बराबर थी।

पढ़ें :- नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावली भारत के दौरे पर आएंगे, क्या सुधरेंगे रिश्ते?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...